कुंभ कोरोना जांच फर्जीवाड़े में पंत दंपती गिरफ्तार, दिल्ली में डेरा डाले हुए थी एसआइटी, हरिद्वार लाने की तैयारी, एसएसपी घोटाले में उनकी भूमिका से उठाएंगे पर्दा

हरिद्वार । कुंभ-2021 के दौरान हुए बहुचर्चित कोरोना जांच घोटाले में आखिरकार मैक्स कॉरपोरेट सर्विसेज के पार्टनर शरत पंत और उसकी पत्नी मलिका पंत को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसआइटी की एक टीम दोनों की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली में डेरा डाले हुए थी। सूत्र बताते हैं कि दोपहर तक दोनों को हरिद्वार लाया जाएगा, जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ योगेंद्र सिंह रावत घोटाले में उनकी भूमिका से पर्दा उठाएंगे। कोरोना काल में संपन्न हुए बीते कुंभ 2021 में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कोरोना टेस्ट रिपोर्ट अनिवार्य की गई थी। हरिद्वार की सीमाओं पर और कुंभ क्षेत्र में जगह-जगह कोरोना टेस्टिंग के लिए मेला स्वास्थ्य विभाग की ओर से इंतजाम किए गए थे। कुंभ में टेस्टिंग का ठेका लेने वाली मैक्स कारपोरेट सर्विसेज दिल्ली ने बड़े पैमाने पर फर्जी टेस्ट कर सरकार को करोड़ों रुपए का चूना लगाया।छह महीने पहले इस मामले में हरिद्वार की शहर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामले की जांच कर रही एसआईटी की एक टीम ने मैक्स कारपोरेट के पार्टनर शरत पंत और उसकी पत्नी मल्लिका पंत व नवतेज नलवा के खिलाफ पहले गैर जमानती वारंट और फिर कुर्की के लिए मुनादी की कार्रवाई की थी। आखिरकार पंत दंपति पुलिस के हाथ आ गए। उन्हें पकड़कर हरिद्वार लाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.