भाजपा के चिंतन शिविर के दूसरे दिन राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष के नेतृत्व में पार्टी ने किया गहन मंथन, बूथ स्तर की मजबूती पर दिया जोर, प्रदेश अध्यक्ष बोले- राज्य के अंदर भाजपा का मजबूत संगठन का आधार

देहरादून / रामनगर । भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष के नेतृत्व में पार्टी ने पांच घंटे 50 मिनट तक गहन मंथन किया। पांच सत्रों में चले इस आयोजन को लेकर इस दौरान किसी नेता ने सुझाव दिए तो किसी ने समस्याएं गिनाईं। कुछ ने अपनी उपलब्धियां के बारे में भी बताया। सोमवार को ढिकुली स्थित रिसॉर्ट में सुबह सबसे पहले अधिकांश नेताओं ने प्राणायाम किया। इसके बाद नौ बजे से पहला सत्र शुरू हो गया था। पहला सत्र पौने दो घंटे का था, जिसमें कैबिनेट मंत्रियों से उपलब्धियों के बारे में जानकारी ली गई। इसके बाद रात आठ बजे तक पांच सत्रों का आयेाजन हुआ। बैठक में पार्टी नेतृत्व ने बूथ स्तर की मजबूती पर जोर दिया। यह तय किया कि चुनाव से पहले बूथ स्तर पर सक्रियता बढ़ाई जाए। जहां कमी है, उसे तत्काल दुरुस्त की जाए। पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच किसी तरह का मतभेद न रहे। शीर्ष नेताअों ने यह भी कहा कि हर कार्यकर्ता खुद को पार्टी का सच्चा सिपाही समझते हुए चुनाव में जुटा रहे। सभी को इस बात पर खास फोकस करना होगा। वहीं 29 जून को दो सत्र के बाद बैठक का समापन हाे जाएगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि राज्य के अंदर भाजपा का मजबूत संगठन का आधार है। इस संगठन के चलते हम लगातार जनता के बीच हैं और आगे भी रहेंगे। यही हमारी पार्टी की बड़ी शक्ति है। चिंतन शिविर के बीच मीडिया को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सरकार ने पहले ही सीमित संख्या में चारधाम यात्रा शुरू की है। इसमें प्रतिबंध की कोई बात नहीं हैं। बैठक में राष्ट्रीय महामंत्री बीएल संतोष, प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, सह प्रभारी रेखा वर्मा , प्रदेश महामंत्री संग़ठन अजेय, राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी, प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार, संसदीय कार्य मंत्री बंशीधर भगत, पेयजल मंत्री विशन सिंह चुफाल, समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य, सिचाई मंत्री सतपाल महाराज, आयुष मंत्री हरक सिंह रावत, सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी, गन्ना विकास राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार यतीश्वरानंद, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डा. धन सिंह रावत, दुग्ध राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार रेखा आर्य, सांसद अजय भट्ट, नरेश बंसल, राज्य लक्ष्मी शाह, अजय टम्टा, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंन्द्र सिंह रावत, विजय बहुगुणा, सुरेश जोशी आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.