महिलाओं के बिना राष्ट्र व समाज के संपूर्ण विकास का सपना अधूरा, कोर कॉलेज में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर कार्यक्रम आयोजित

रुड़की। हरिद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग (कोर) रुड़की अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में एक दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मीनाकृति की संस्थापक सुश्री मीनाक्षी खाती रही एवं विशिष्ट अतिथि श्रीमती सुनीता जैन उपाध्यक्षा कोर, श्रीमती गार्गी कर, श्रीमती चारू जैन कार्यकारी निदेशक कोर, श्रीमती रश्मि चौहान प्रिंसिपल एंजेल्स एकेडमी बहादराबाद, श्रीमती लीना शर्मा प्रिंसिपल स्कॉलर्स अकैडमी, श्रीमती सारिका जैन प्रिंसिपल गुरु ज्ञान सागर पब्लिक स्कूल श्रीमान जी श्रीमती मंजू कुमारी वाइस प्रिंसिपल आशु पब्लिक स्कूल रुड़की एवं सब इंस्पेक्टर श्री हेम दत्त रहे।
कार्यक्रम के आरंभ में सब इंस्पेक्टर हेम दत्त थाना बहादराबाद ने छात्राओं को साइबर क्राइम के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की एवं सुरक्षा के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला । कार्यक्रम के अंतर्गत सभी अतिथियों ने महिलाओं के सशक्तिकरण पर विचार व्यक्त किए एवं महिलाओं की विभिन्न क्षेत्रों में भागीदारी को महत्वपूर्ण बताया।
कार्यक्रम की मुख्य अतिथि सुश्री मीनाक्षी खाती ने कहा कि भारत के विकास का सपना बिना महिलाओं की भागीदारी के अधूरा है, मीनाकृति की संस्थापक सुश्री मीनाक्षी खाती ने कहा आज की महिलाएं केवल घर के चारों कोनों तक ही सीमित नहीं है, वे अपना विकास कर सकती हैं और हर क्षेत्र में आगे भी आ रही हैं उन्होंने खुद का उदाहरण देते हुए कहा कि वे लगातार उत्तराखंड की अनुष्ठान कला को बढ़ावा दे रही हैं और इससे वे ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को रोजगार भी प्रदान कर रही हैं । श्रीमती रश्मि चौहान ने अपने विचार व्यक्त करते हुए छात्राओं से आह्वान किया कि वे हर क्षेत्र में आगे आए और देश को सशक्त बनाने में अपनी भूमिका अदा करें उन्होंने कोर इंस्टीट्यूशंस ऑफ हायर एजुकेशन को महिला सशक्तिकरण का एक सशक्त माध्यम बताया। उन्होंने कहा कोर जैसे संस्थान महिलाओं की उच्च शिक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर रहे हैं ।
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि रही श्रीमती गार्गी कर मिसेज इंडिया 2021 क्वीन ऑफ सब्सटेंस ने भारतीय महिलाओं की राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थिति पर गहरी चिंता व्यक्त की और कहा की महिलाओं को आगे आने के लिए खुद में एक ऊर्जा पैदा करनी पड़ेगी, जिससे वह आगे आ पाएगी उन्होंने खुद का उदाहरण देते हुए बताया कि वह एक मां भी है, एमटेक की छात्रा है, मिसेज इंडिया है, और बिग बॉस व अनुसंधान जैसी कई महत्वपूर्ण परिजनों परियोजनाओं पर काम कर रही हैं। यह कार्यक्रम डॉक्टर मृदुला सिंह एसोसिएट प्रोफेसर के सफल निर्देशन में आयोजित किया गया। मंच का संचालन डॉ रेनू ने किया एवं कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉ रोहित कनौजिया, मयंक देव, रोहित चौहान डॉ हर्षिता, वैशाली चौधरी, रिमी छाबड़ा आदि ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *