मातृ सदन के आंदोलन को पूर्वांचल उत्थान संस्थान ने दिया समर्थन, गंगा रक्षा सहित अन्य चार मांगों को लेकर चल रहा हैं मातृ सदन का आंदोलन

हरिद्वार । गंगा रक्षा सहित अन्य चार मांगों को लेकर तपस्या कर रहे मातृ सदन के ब्रह्मचारी आत्मबोधानन्द को पूर्वांचल उत्थान संस्था ने समर्थन दिया है। शुक्रवार को संस्था के महामसचिव सूर्यनारायण झा ने अपने सदस्यों के साथ मातृ सदन में जाकर स्वामी शिवानन्द को समर्थन पत्र सौंपा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड सरकार खनन माफियाओं के दबाव में आकर अवैध खनन को प्रदेष में बढ़ावा दे रही है। इसके विरोध में मातृ सदन के संत लम्बे समय से तपस्या करते चले आ रहे है। इस कड़ी में 23 फरवरी से ब्रह्मचारी आत्मबोधानन्द तपस्या कर रहे है। लेकिन सरकार को इसकी तनिक भी चिंता नहीं है। सरकार को जगाने के लिए ब्रह्मचारी आत्मबोधानन्द ने 8 मार्च से जल त्यागने की भी घोषण की है। वहीं मातृ सदन के परमाध्यक्ष स्वामी षिवानन्द ने कुंभ के दौराने शरीर छोड़ने की भी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि पूर्वाचंल उत्थान संस्था सरकार से मांग करती है कि संतो ंके जीवन की रक्षा के लिए उचित निर्णय लें। वहीं, अवैध खनन पर सहित अन्य मांगों पर कार्यवाही के लिए आदेष पारित करें। इस दौरान कृष्ण कुमार यादव, गौरव यादव आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.