पढ़ाई के लिए 60 किलोमीटर का सफर करती थी रमशा, सीबीएसई बोर्ड 12वीं की परीक्षा में हासिल किए 98.8 प्रतिशत अंक, घर में खुशी का माहौल

रुड़की । सीबीएसई बोर्ड 12वीं की परीक्षा में 98.8 प्रतिशत अंक हासिल कर स्कूल टॉप करने वाली रमशा रोजाना स्कूल आने-जाने के लिए 60 किमी का सफर तय करती थी। रमशा उत्तर प्रदेश के पुरकाजी से बस में बैठकर रुड़की पढ़ने आती थी। आने-जाने में दो-तीन घंटे बर्बाद होते थे, लेकिन इसके बाद भी रमशा ने मेहनत में कोई कमी नहीं छोड़ी। सेंट ऐंस सीनियर सेकेंडरी की छात्रा रमशा का घर उत्तर प्रदेश के पुरकाजी में है। रमशा के पिता शमशाद की आरा मशीन है। रमशा ने बताया कि वह रोजाना सुबह उठकर समय से दो घंटे पहले स्कूल के लिए निकलती थी।स्टॉप पर बस मिलने के बाद वहां से रुड़की पहुंचने में पूरे एक घंटे लगते थे। इसके बाद घर वापस आने में भी अतिरिक्त समय लगता था। इसके बाद जो समय बचता था। इसमें वो पूरा लगन से पढ़ाई करती थी। रमशा बताती हैं, छात्र सोशल मीडिया और मोबाइल से जितना दूर रहें, उनके लिए उतना ही बेहतर है। इससे समय बर्बाद होता है। रमशा ने बताया कि वह फैशन डिजाइनर बनना चाहती हैं। रमशा के तीन बहनें और एक भाई हैं। बताया कि पढ़ाई में उसे स्कूल की शिक्षिकाओं के सहयोग के साथ ही अपनी मां खुशनूर और बहनों का भी भरपूर सहयोग मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.