मोदी सरकार आमजन के हित में काम करने के बजाए बड़े डद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए काम कर रही, मन की बात के विरोध में सीटू कार्यकताओं ने बजायी थाली

हरिद्वार । सीटू जिला कमेटी व जिला किसान सभा ने केंद्र सरकार द्वारा लागू किए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेन की मांग कर रहे किसान संगठनों के आंदोलन का समर्थन करते हुए सीटू कार्यालय मे थाली ताली बजा कर प्रधानमंत्री मोदी की मन की बात का विरोध किया। सीटू के जिला अध्यक्ष पीडी बलूनी व किसान सभा के संयोजक आरसी धीमान ने कहा कि केन्द्र सरकार किसान आन्दोलन को भटकाने के बजाय समस्याओं का सम्मान जनक समाधान करे। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार आमजन के हित में काम करने के बजाए बड़े डद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए काम कर रही है। कृषि कानूनों के जरिए किसानों को उन्हीं के खेतों में उद्योगपतियों का बंधुआ मजदूर बनाने की कोशिश की जा रही है। जिसे स्वीकार नहीं किया जाएगा। उद्योगपतियों के हित साधने के लिए विवादास्पद कृषि कानूनों को तत्काल वापस लिया जाना चाहिए। कार्यकर्ताओ ने केरल राज्य मे किसान कानूनो के सम्बन्ध मे की गई टिप्पणी अनावश्यक व तथ्यात्मक न होने पर पीएम मोदी की आलोचना भी की। कार्यक्रम मे सीटू के जिला अध्यक्ष पी.डी. बलोनी, किसान सभा के संयोजक आर.सी.धीमान, इमरत सिंह, एम.पी.जखमोला, उदयबीर सिंह, वसीम अहमद, कदम सिंह, आर.पी. जखमोला, ए.के.जाफरी, राजकुमार, हरीश चन्द आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *