शहर में दस नए शौचालय बनाए जाएंगे, पर्यटकों की संख्या को देखते हुए कुंभ निधि से तैयार होंगे शौचालय, जिला पर्यटन अधिकारी ने दी जानकारी

हरिद्वार । शहर में आने वाले पर्यटकों की संख्या को देखते हुए कुंभ निधि से दस नये शौचालयों के निर्माण को हरी झंडी मिल गयी है। करीब दो करोड़ 44 लाख की लागत से शहर पर्यटक बाहुल्य इलाकों में इन शौचालयों को तैयार कराया जायेगा। उम्मीद जताई जा रही है कि मार्च माह से इनका निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा। हरिद्वार में हर साल करोड़ों की संख्या में पर्यटक आते हैं। भीड़ भाड़ वाले सीजन में उन पर्यटकों को सबसे ज्यादा परेशानी होती है जो होटल धर्मशालाओं में न रुक गंगा घाटों पर स्नान कर वापस लौट जाते हैं। ऐसे पर्यटकों को शौचालयों की कमी सबसे ज्यादा परेशान करती है। इन पर्यटकों की परेशानी को कम करने के लिए कुंभ निधि से दस नए शौचलयों को स्वीकृति दी गई है। प्रत्येक शौचालय का निर्माण 24.37 हजार रुपये से कराया जायेगा। 7 सीटर यह शौचालय आधुनिक तकनीक से तैयार कराये जायेंगे। पर्यटन विभाग को इस काम का जिम्मा दिया गया है। पर्यटन विभाग ने इसके लिए पहले चरण में दस स्थानों को भी चिन्हित किया है जहां यह शौचालय बनाये जायेंगे। जिला पर्यटन अधिकारी सीमा नौटियाल ने बताया कि इन शौचालयों के लिए जगह चिन्हित कर ली गई हैं। शौचालय स्वीकृत कर दिये गये हैं और मार्च माह तक कार्य शुरू होने की उम्मीद है। उन्होने बताया कि आरटीओ तिराहा, सूखी नदी, पंतद्वीप, रोडीबेलवाला, ललताराव पुल, रानीपुर मोड, भीमगोडा, जटवाड़ा पुल और बहादराबाद में यह शौचालय तैयार होंगे। इसके बाद अन्य स्थानों पर शौचालय बनवाये जायेंगे। पुराने शौचालयों की होगी मरम्मत हरिद्वार में विभिन्न स्थानों पर 27 ऐसे शौचालय पहले से मौजूद हैं जो रखरखाव के अभाव में खस्ताहाल में हैं। इन शौचालयों के लिए भी पर्यटन विभाग ने योजना बनाई है। इन शौचालयों के मरम्मत का कार्य कई स्थानों पर शुरू भी हो चुका है। हरकी पैड़ी पर है अतिरिक्त शौचालय की जरूरतहरकी पैड़ी पर बड़ी संख्या में यात्रि आते हैं लेकिन इनकी संख्या के अनुरूप वहां शौचालय मौजूद नहीं हैं। यदि पर्यटन विभाग इस इलाके में कम से कम दो शौचालय तैयार कराता है तो इससे यात्रियों को बड़ी राहत मिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *