उत्तराखंड का लाल जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद, घर में मचा कोहराम, पिता फौज से सेवानिवृत्त, बड़ा भाई भी सेना में तैनात

देहरादून / कोटद्वार । जनपद पौड़ी गढ़वाल के प्रखंड द्वारीखाल के अंतर्गत ग्राम लंगूरी निवासी अनिल चौहान जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए देश के लिए बलिदान हो गए। उनके बलिदान की सूचना मिलने के बाद से ही घर में कोहराम मचा हुआ है। आठवीं गढ़वाल राइफल्स में तैनात ग्राम लंगूरी निवासी अनिल चौहान (28) के बलिदान की सूचना पिता बृजमोहन चौहान को गुरुवार दोपहर में मिली। सूचना मिलते ही पिता व माता बेसुध होकर गिर पड़े। जैसे-जैसे क्षेत्र में अनिल की शहादत की सूचना मिलती रही, क्षेत्रीय जन सांत्वना देने घर पहुंचता रहा। प्रखंड द्वारीखाल के ग्राम प्रधान संघ के अध्यक्ष अर्जुन सिंह ने बताया कि सेना की ओर बताया कि गुरूवार तड़के कश्मीर में राजौरी के मंडर सेक्टर में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान अनिल को गोली लग गई।ग्राम प्रधान कमलेश्वरी देवी ने बताया कि अनिल के परिवार में उनके माता-पिता, बड़ा भाई व भाभी हैं। उन्‍होंने बताया कि अनिल के पिता भी फौज से सेवानिवृत्त हैं और बड़ा भाई सुनील चौहान भी सेना में तैनात है। बताया कि अनिल ने राइंका कीर्तिखाल से इंटरमीडिएट किया। बीस वर्ष की आयु में वह सेना में भर्ती हो गया था। उन्‍होंने बताया कि बीते वर्ष वह राष्ट्रीय राइफल्स में तीन वर्ष की सेवाएं देने के बाद आठवीं गढ़वाल राइफल्स में वापस आया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.