गंगा दशहरा पर राष्ट्र कल्याण के लिए रुद्राभिषेक और महामृत्युंजय यज्ञ किया गया

रुड़की। देवी शिव मंदिर पुरानी तहसील रुड़की में आचार्य रमेश सेमवाल द्वारा गंगा दशहरा के शुभ अवसर पर राष्ट्र कल्याण के लिए रुद्राभिषेक और महामृत्युंजय यज्ञ का आयोजन किया गया । जिसमें 1008 महामृत्युंजय मंत्र की आहुति दी गई और भगवान देवाधिदेव महादेव से राष्ट्र कल्याण की कामना की गई रुद्राभिषेक भी किया गया । नवग्रह पूजन किया गया। आचार्य पंडित रमेश सेमवाल ने कहा कि जेष्ठ शुक्ल दशमी के दिन ही मां गंगा का अवतरण दिवस है मां गंगा संसार के कल्याण के लिए धरती पर आए हैं । मां गंगा का पूजन करने से सब मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। गंगाजल से स्नान करने से सारे संकट दूर होते हैं गंगाजल से भगवान का अभिषेक करने से सारे कष्ट दूर होते हैं। गंगा की महिमा वेदों में पुराणों में कई गई है। गंगा सनातन का प्राण है ब्रह्मा के कमंडल से निकलकर शिव की जटाओं में समाई मां गंगा संसार के कल्याण के लिए धरती पर आई है। हमें गंगा का पूजन जरूर करना चाहिए जो हजार योजन दूर से भी गंगा गंगा कहता है उसका कल्याण हो जाता है हिंदू सनातन के पांच प्राण हैं। गो गंगा गीता गायत्री और गोपाल इन पर चलकर ही का कल्याण होगा । शहर विधायक प्रदीप बत्रा ने कहा कि मां गंगा मोक्षदायिनी है। मां गंगा अपने भक्तों के कष्टों का निवारण करती है मां गंगा का नाम लेने मात्र से सारे पाप संताप दूर हो जाते हैं। वेदों पुराणों में मां गंगा की महिमा गाई गई है राजा भगीरथ की तपस्या से मां गंगा स्वर्ग से उतरकर मनुष्य मात्र के कल्याण के लिए धरा धाम पर आई है। इस अवसर पर भाजपा नगर अध्यक्ष प्रवीण सिंधु , देवेंद्र शर्मा, सागर पंडित चांदना, राम कुमार गुप्ता, सुलक्ष्णा सेमवाल, आदिती सेमवाल, इंद्रमणि सेमवाल, मुकेश शास्त्री,नरेश शास्त्री आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.