केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-1 रुड़की की प्राथमिक शिक्षिका राखी दायमा का नवाचार परियोजना एनसीईआरटी द्वारा चयनित

रुड़की। केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-1, रूड़की की प्राथमिक शिक्षिका श्रीमती राखी दायमा को शिक्षण नवाचार की दिशा में एक और उपलब्धि मिली है। इनकी नवाचार परियोजना का NCERT के नेशनल अवार्ड्स फॉर इनोवेटिव प्रैक्टिसेज एंड एक्सपेरिमेंट्स इन एजुकेशन फॉर स्कूल्स एंड टीचर्स एजुकेशन इंस्टीटयूसन 2021-22 के लिए चयन किया गया है। पूरे नार्थ रीजन से सिर्फ सात परियोजनाओं का चयन किया गया है जिसमे एक यह भी है । यह संस्था शिक्षण के क्षेत्र में नवाचार, तकनीक, निष्ठां एवं समर्पण के साथ कार्य करने वालों शिक्षकों को उनके बेहतरीन कार्य के लिए हर वर्ष नए प्रोजेक्ट्स का चयन कर उनको सम्मानित करता है।इसी कड़ी में इस विद्यालय की प्राथमिक शिक्षिका श्रीमती राखी दायमा का प्रोजेक्ट चयनित हुआ है | इनके प्रोजेक्ट का विषय है । अन्य विषयों का पर्यावरण अध्ययन के साथ एकीकरण ( इंटीग्रेशन ऑफ़ अदर सब्जेक्ट्स विद EVS). इस प्रोजेक्ट के कार्यान्यवन का मूल्यांकन NCERT द्वारा किया जायेगा | ऑनलाइन शिक्षण के जरिये बच्चों तक पहुँचने तथा विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से बच्चों की पढाई को रोचक और सुचारू रूप से जारी रखने के लिए शिक्षक नए नए प्रयोग कर रहे है | इसी कड़ी में श्रीमती राखी दायमा के प्रोजेक्ट को NCERT द्वारा चयनित किया गया है जो कि इस शिक्षिका के नवाचार प्रयोग को एक अलग पहचान देता है । शिक्षिका श्रीमती राखी दायमा की इस उपलब्धि पर पूरा विद्यालय परिवार गौरवान्वित है । प्राचार्य वी के त्यागी ने इस उपलब्धि पर हर्ष जताते हुए कहा कि हमारा विद्यालय शिक्षकों को अपने शिक्षण में तकनीक और नवाचार के लिए हमेशा प्रोत्साहित करता है | इस तरह से शिक्षिका के प्रोजेक्ट का एक सरकारी सम्मानित उच्च संस्था NCERT द्वारा चयनित होना दूसरे शिक्षकों को भी इस दिशा में कार्य करने के लिए प्रेरित करता है |प्राचार्य श्री वी के त्यागी ने इस उपलब्धि पर बधाई देते हुए उनके सुनहरे भविष्य की कामना की। उप प्राचार्या श्रीमती अंजू सिंह ने बताया कि उसकी इस उपलब्धि पर पूरा विद्यालय परिवार हर्षित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.