उत्तरांचल पंजाबी महासभा निस्वार्थ कर रहा है समाज की सेवा: डॉ सुनील कुमार बत्रा, एस एम जे एन पी जी काॅलेज के प्राचार्य के नेतृत्व में उतरांचल पंजाबी महासभा हरिद्वार के नवनियुक्त पदाधिकारियों का स्वागत किया गया

हरिद्वार । हरिद्वार के प्रमुख अर्थशास्त्री व शिक्षाविद और प्रमुख शिक्षण संस्थान एस एम जे एन पी जी कालेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्रा ने कालेज प्रांगण में उतरांचल पंजाबी महासभा, हरिद्वार के नवनियुक्त पदाधिकारियों का पंजाबी समाज के वरिष्ठ अतिथियों के सानिध्य में फूल माला व शाल ओढ़ाकर सम्मान किया। इस अवसर पर नवनियुक्त पदाधिकारीयों को शुभ कामनाएं एव आशीर्वचन देते हुए डा0बत्रा ने कहा कि उतरांचल पंजाबी महासभा जिस प्रकार विगत कई वर्षों से लगातार जनसेवा व समाजसेवा करते हुए आज समाज के सबसे जरूरतमंद साथियों तक संवाद स्थापित करने में सफल हुई है वह टीम वर्क व कार्यकर्ताओं का समाज के बीच रहकर काम करने का परिणाम है, कोरोना संकट काल में जिस प्रकार संस्था ने लगातार 53 दिन तक सर्व समाज के भूखे व मजबूर लोगों के लिये भोजन व्यवस्था चलाई, उससे समाज की कीर्ति पताका चारों ओर फहर रही है। इस के पश्चात उतरांचल पंजाबी महासभा, हरिद्वार के कार्यकर्ताओं ने विगत वर्ष कालेज के प्रांगण में अपने पूर्वजों की स्मृति में पौधारोपण किया था उन पौधों में हरेला सप्ताह में पानी डाल कर सींचा व उन पौधों के भली भाँति रख रखाव के लिए डॉक्टर सुनील बत्रा व कालेज के स्टाफ का आभार व्यक्त किया।

उत्तरांचल पंजाबी महासभा के अध्यक्ष प्रवीण कुमार ने कहा कि शीघ्र ही उत्तरांचल पंजाबी महासभा कॉलेज प्रांगण में छात्र छात्राओं के पेयजल के लिए एक वाटर कूलर स्थापित करेंगे। इस पर प्राचार्य ने उनका साधुवाद किया तथा कॉलेज प्रांगण में नवनिर्मित भवन एवं बी एच ई एल के सीएसआर फंड से निर्मित होने वाले महिला प्रसाधन कक्ष का अवलोकन कराया। इस अवसर पर पूर्व जिला अध्यक्ष परमानंद पोपली, बहन अन्नू ककक्ड, वरिष्ठ समाज सेवी बहन एकता सूरी, प्रदेश उपाध्यक्ष परमानंद पोपली, प्रदेश प्रभारी किशोर अरोड़ा, चैयरमेन संदीप कपूर, जिला अध्यक्ष प्रवीण कुमार, जिलामहामंत्री प्रदीप कालरा, कोषाध्यक्ष देवेन्द्र चावला, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सतीश भाटिया, विक्की तनेजा, कुंवर बाली, रवि धींगडा, हिमांशु चोपड़ा, हरविन्द्र सिंह उप्पल, रवि पाहवा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *