श्यामलाल संघ के कर्मठ, निष्ठावान, आदर्शवादी स्वयंसेवकों में से थे, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दी श्रद्धांजलि, कहा हजारों स्वयं सेवकों का निर्माण किया श्यामलाल ने

हरिद्वार । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक और विद्या भारती के पूर्व क्षेत्र संगठन मंत्री स्वर्गीय श्यामलाल की अस्थियां गुरुवार को पूरे विधि विधान से हरकी पैड़ी पर गंगा में विसर्जित की गईं। इससे पूर्व सरस्वती विद्या मंदिर मायापुर में स्वर्गीय श्यामलाल को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री सहित संघ और भाजपा के अलावा कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। श्रदांजलि सभा में पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वर्गीय श्यामलाल को भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि श्यामलाल संघ के कर्मठ, निष्ठावान, आदर्शवादी स्वयंसेवकों में से थे। जिन्होंने मील का पत्थर बन बहुमंजिला इमारतें खड़ी कीं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में श्यामलाल ने विद्या भारती के माध्यम से गांव-गांव तक संघ का प्रचार किया और सरस्वती शिशु मंदिर व विद्या मंदिरों का निर्माण कराया। उन्होंने बताया कि कि श्याम लाल ने हजारों स्वयंसेवकों का निर्माण किया ऐसे ही एक स्वयंसेवक के रूप में मैं स्वयं हूं। मुख्यमंत्री ने स्मरण करते हुए बताया कि जब वह जिला प्रचारक थे, उस दौरान श्यामलाल का मार्गदर्शन उन्हें सदैव मिलता रहता था। उन्होंने श्यामलाल के निधन को विद्या भारती सहित संघ के लिए बड़ी क्षति बताया। साथ ही उनके व्यक्तित्व से प्रेरणा लेने की बात कही ।इस अवसर पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के संगठन मंत्री तपन ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि श्यामलाल जी जैसे स्वयंसेवक संघ की जीवंत पद्धति का हिस्सा है। श्रद्धांजलि देने वालों में विद्या भारती के प्रांत संगठन मंत्री भुवन चंद प्रदेश, निरीक्षक विजय पाल सिंह, प्रदेश मंत्री डॉ.रजनी कांत शुक्ला, विधायक आदेश चौहान, विभाग प्रचारक शरद कुमार व राज्य पुष्प ,जिला संघ संचालक कुंवर रोहिताश,पूर्व मेयर मनोज गर्ग ,भाजपा नेत्री कल्पना सैनी, आशुतोष शर्मा,कन्हैया खेवड़िया,जिला प्रचारक अमित कुमार, राहुल कुमार ,अमित शर्मा आदि मुख्य थे। श्रद्धांजलि सभा के उपरांत हर की पैड़ी ब्रह्मकुंड पर श्री गंगा सभा के अध्यक्ष प्रदीप झा के निर्देशन में विद्वान ब्राह्मणों ने श्यामलाल की अस्थियां गंगा में प्रवाहित कराई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *