कोरोना काल में राहत देने की बजाए तेल के दामों में बढ़ोतरी कर जनता को परेशान कर रही सरकार: चंद्रशेखर यादव, पेट्रोल व डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ सपा कार्यकर्ताओं ने सरकार का फूंका पुतला

हरिद्वार । पेट्रोल डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी किए जाने पर सपा कार्यकर्ताओं ने बाल्मिीकि चौक पर प्रदर्शन कर केंद्र सरकार का पुतला दहन किया। इस दौरान सपा लोहिया वाहिनी पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर यादव ने कहा कि कोरोना काल में बेरोजगारी व महंगाई से जूझ रही जनता को राहत देने के बजाए केंद्र सरकार तेल के दामों में रोजाना वृद्धि कर महंगाई को और बढ़ाने का काम कर रही है। पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने से अन्य वस्तुओं के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। जिससे गरीब जनता की परेशानियों में ओर इजाफा हो रहा है। केंद्र की सत्ता में बैठी मोदी सरकार को जनता को तकलीफों से कोई लेना देना नहीं रह गया है। राहत देने के बजाए सरकार जनता की तकलीफों को बढ़ाने का काम कर रही है। देश भर में जाति व धर्म के भेदभाव को बढ़ाने का काम भाजपा कर रही है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के द्वारा यूपी में अनेकों विकास कार्य किए गए। उसका श्रेय भी यूपी के मुख्यमंत्री ले रहे हैं।पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष डा.राजेंद्र पाराशर कहा कि लाॅकडाउन में मजदूरों किसानों को अनेकों परेशानियों का सामना करना पड़ा। मजदूर कई सौ किलोमीटर पैदल चलकर अपने घर पहुंचे। लेकिन मोदी सरकार मात्र बयानबाजी तक सीमित रहे। पूर्व महानगर अध्यक्ष लवकुमार दत्ता व श्रवण शंखधर ने कहा कि केंद्र की जनविरोधी नीतियों से देश की जनता आजिज आ चुकी है। राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी प्रदेश की जनता को राहत नहीं दे पा रहे हैं। रोजाना बढ़ रहे पेट्रोल डीजल के दाम रसोई पर असर पर डाल रहे हैं। खाद्य पदार्थो के दाम बढ़ने से गृहणियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रसोई गैस पर मिलने वाली सब्सिडी को भी केंद्र सरकार ने चुपचाप समाप्त कर दिया है। पूर्व प्रदेश प्रवक्ता मशकूर अहमद कुरैशी ने कहा कि कोरोना काल में जनता को राहत देने में केंद्र व प्रदेश सरकार पूरी तरह विफल साबित हुई हैं। महंगाई चरम पर पहुंच चुकी है। बेरोजगारों को रोजगार नहीं मिल पा रहे हैं। निजी क्षेत्र से रोजगार समाप्त हो रहे हैं। पढ़ा लिखा युवा वर्ग अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहा है। पेट्रोल डीजल के बढ़े दाम तुरंत वापस लिए जाएं। प्रदर्शन व पुतला दहन के दौरान सचिन मिश्रा, जयराम सैनी, सुभाष सिंह आदि ने भी बढ़ाए गए दामों को तुरंत वापस लेने की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *