सेवा कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही स्पर्श गंगा टीम, लॉकडाउन के प्रथम चरण से ही सेवा में जुटी हैं टीम, 11 हजार मास्क वितरित किए

हरिद्वार । लाॅकडाउन में सेवा कार्यो में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही स्पर्श गंगा की संयोजिका आरूषि पोखरियाल निशंक ने बताया कि लॉकडाउन के प्रथम चरण से ही सेवा कार्यो में जुटी स्पर्श गंगा टीम ने ने सीमा पर तैनात फोजियों की मदद के लिए हाथ से बने 11 हजार सूती फेस कवर भिजवाए। 19 हजार फेस कवर जरूरतमन्दों को बांटे। 4200 जरूरतमन्दों को राशन किट उपलब्ध करायी गयी। चंडी घाट, श्यामपुर, रोशनाबाद, नवोदय नगर, मधु विहार, दयाल इंक्लेव, सीतापुर, शिवालिक नगर, राम धाम, रुड़की, सलेमपुर, पुल जटवाड़ा, त्रिमूर्ति नगर, शिव धाम,जगजीतपुर, टिहरी विस्थापित, लाल मंदिर, न्यू शिवालिक नगर, झबरेड़ा, कलियर, चैक बाजार ज्वालापुर आदि क्षेत्रों में निरंतर जरूरतमंदों की मदद की जा रही है।इसके अलावा स्पर्श गंगा परिवार ने मोदी किचन के माध्यम से रोजाना सैकड़ो लोगों को भोजन उपलब्ध कराया। छोटे बच्चों को बिस्कुट, टॉफी, फल, सेनिटाइजर और साबुन वितरण भी कराया गया। टीम के सदस्यों द्वारा इस महामारी से बचाव के लिए लोगों को जागरूक भी किया गया। रीता चमोली ने कहा कि बहुत जल्दी देश इस संकट पर विजय प्राप्त कर फिर से विकास की राह पर आगे बढ़ेगा। इस अवसर, पर, आशु चैधरी, विमला ढौडियाल ने कहा कि लाॅकडाउन का पालन करें। रजनी वर्मा ने कहा कि स्पर्श गंगा परिवार सभी जरूरतमन्दों को हरसंभवल मदद उपलब्ध कराने के लिए संकल्पबद्ध है। मनु रावत ने कहा कि स्पर्श गंगा ने कोरोना का जवाव करुणा से दिया है। रीमा गुप्ता ने कहा कि महामारी के जरिए प्रकृति हमे कुछ सन्देश देना चाहती है। जिसे समझते हुए पर्यावरण संरक्षण में सहयोग करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *