सुभाष वर्मा ने फिर लगाया छक्का, 6 समर्थक नामित हुए जिला योजना समिति के सदस्य

हरिद्वार /रुड़की । जिला पंचायत अध्यक्ष सुभाष वर्मा लगातार फॉर्म में है। जिसके चलते सियासी पिच पर वह छक्के पर छक्का लगाते जा रहे हैं। पहले जिला पंचायत बोर्ड की बैठकों का सफल होना और इसके बाद जिले भर में विकास कार्यों में तेजी आना वह बैठको से नदारद रहने वाले चार सदस्यों को निलंबित कराना और अब अपने 6 समर्थकों को जिला योजना समिति के सदस्य के रूप में नामित कराने के साथ ही जिला योजना की कार्यदाई संस्था जिला पंचायत को बनवाना । उनकी बड़ी उपलब्धि के रूप में दर्ज हो रही है। इससे वह राजनीतिक रूप से तो मजबूत हो ही रहे हैं साथ ही जिले में विकास मैं तेजी लाए जाने का भी रास्ता बन रहा है। राजनीतिक जानकार भी मान रहे हैं कि जिला योजना की कार्यदाई संस्था जिला पंचायत हो जाना बहुत बड़ी बात है। निश्चित रूप से जिला पंचायत विकास की दृष्टि से टॉप पर पहुंच जाएगी।

क्योंकि जिला योजना का बहुत बड़ा बजट है और इस बजट को विकास के रूप में खर्च करने कार्य जब जिला पंचायत पर होगा तो निश्चित रूप से आम जनता में जिले की सबसे बड़ी पंचायत के प्रति पूर्व में बनी गलत धारणा बदलेगी। चारों ओर विकास होता नजर आएगा। माना जा रहा है कि जिला योजना समिति में भी जिला पंचायत अध्यक्ष सुभाष वर्मा ने अपने समर्थक सदस्यों को विकास को ध्यान में रखते हुए ही नामित कराया है। अपर सचिव हरीश चंद्र सेमवाल की ओर से जारी हुए पत्र में बबली चौधरी पत्नी सुशील चौधरी सुनहटी, सुबोध राकेश, लतीफन पत्नी मोहम्मद हाशिम, चौधरी विजेंद्र सिंह ,योगेश त्यागी खजूरी, संदीप चौधरी पुत्र कंवरपाल सिंह टिकोला के नाम शामिल है। यह सभी नाम जिला पंचायत अध्यक्ष सुभाष वर्मा की ओर से ही प्रस्तावित किए गए थे । जिन पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सहमति देते हुए नियुक्ति पत्र जारी करा दिए। जिला योजना समिति में समर्थक सदस्यों के नामित होने पर निश्चित रूप से जिला पंचायत अध्यक्ष सुभाष वर्मा को मजबूती मिलेगी। उन्हें विकास का एजेंडा आगे बढ़ाने के लिए एक अच्छा अवसर प्रदान होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *