हमारे वीर सैनिकों के परिवारों पर ऐसी अशोभनीय टिप्पणी को सीरीज से तुरंत से बाहर किया जाए: स्वामी आलोक गिरी महाराज

हरिद्वार । एकता कपूर द्वारा निर्मित वेब सीरिज में कथित तौर पर भारतीय सैनिकों और उनकी पत्नियों का अपमान किए जाने पर संत समाज ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। स्वामी आलोक गिरी महाराज ने कहा कि कुछ तथाकथित स्टारों द्वारा भारतीय संस्कृति एवं भारतीय सेना के जवानों को अपमानित करने का प्रयास किया जा रहा है। जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने एकता कपूर जैसे फिल्म निर्माताओं को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि वह अपनी हद में रहें। हमारे वीर सैनिकों के परिवारों पर ऐसी अशोभनीय टिप्पणी को सीरिज से तुरंत से बाहर किया जाए। महिला आयोग को भी इस पर त्वरित संज्ञान लेकर वेब सीरिज के निर्माता व निर्देशक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत के वीर जवान दिन रात बार्डर पर हमारी सुरक्षा के लिए तैनात हैं। विषम परिस्थितियों में कठिन डयूटी करते हुए देश की रक्षा में लगे जवानों का अपमान करने का अधिकार किसी को नहीं है। भारतीय सेना हर चुनौती का मूंह तोड़ जवाब देने में सक्षम है। दुश्मनों का सामना कर हमारी रक्षा के लिए तैनात सैनिक अपने प्राणों के बलिदान से भी पीछे नहीं हटते। ऐसे में उनके परिवारों को अपमानित करना घटिया सोच का नतीजा है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कर कार्रवाई उन्हें जेल भेजना चाहिए। स्वामी रघुवन महाराज ने कहा कि वेब सीरिज में भारतीय सैनिकों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी पर सेंसर बोर्ड द्वारा कोई संज्ञान नहीं लिया गया। सेंसर बोर्ड को इस तरह की वेब सीरिज व फिल्मों के प्रसारण पर रोक लगानी चाहिए। जिससे भारतीय संस्कृति का ह्रास या सेना का अपमान होना दिखाया गया हो। देश के वीर जवान कड़ी धूप व ठण्ड में भी अपने प्राणों की बाजी लगाकर देश की रक्षा करते हैं। बहादुर सैनिकों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। स्वामी मोतीराम ने कहा कि सैनिकों के खिलाफ विवादित टिप्पणी वाली वेब सीरिज को प्रसारण का अधिकार देकर सेंसर बोर्ड ने आपराधिक कार्य किया है। वेब सीरिज के निर्माता निर्देशक के साथ सेंसर बोर्ड के अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए। जिससे भविष्य में इस तरह के कृत्यों की पुनर्रावृत्ति ना हो सके। उन्होंने कहा कि ऐसी प्रवृत्ति के लोग देश के गद्दार हैं। जिनको देश मे रहने का कोई अधिकार नहीं है। केंद्र सरकार को मामले का संज्ञान लेते हुए ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। स्वामी मधुरवन, महंत श्यामप्रकाश, महंत जमनादास, महंत सतनाम सिंह, महंत अमनदीप सिंह, महंत शिवानंद, स्वामी रविदेव शास्त्री महंत सूरज दास, स्वामी नित्यानंद, दिगंबर नीरज गिरी, दिगंबर अमित पुरी, महंत दामोदर शरण दास, महंत निर्मल दास आदि संतों ने भी एकता कपूर के खिलाफ कारवाई की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *