गंगा का अस्तित्व सर्वोपरि, गंगा के लिए बलिदान को सदैव तैयार है आप: मोहनिया

हरिद्वार । गंगा के नाम पर राजनीति करना बीजेपी और कांगेस को भारी पड गया। कांगेस के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने 2016 में गंगा का नाम बदलकर उसे स्केप चैनल का दर्जा दिया था और इसके बाद उन्होंने अपनी भूल के लिए हरिद्वार के संतों से माफी मांगी । वहीं बीजेपी ने चुनावों से पहले अपने घोषणा पत्र में कहा था कि सरकार का गठन होने के 24 घंटों के अंतराल में ही गंगा को पुन उसका दर्जा दिलाया जाएगा लेकिन चार सालों के बाद भी ऐसा नहीं हुआ। आप पार्टी ने पूरे प्रदेश में इसे एक जनमु्द्दे के तौर पर लिया और संतों और जनता की भावनाओं को देखते हुए एक बडा आंदोलन चलाया और आखिरकार कई मुकदमे आप नेताओ पर दर्ज होने के बावजूद सरकार को इस मुद्दे पर झुकाने का काम किया। इस जीत को मनाने के लिए आज आप पार्टी के प्रदेश पभारी दिनेश मोहनिया ने पार्टी के कई वरिष्ठ पदाधिकारियों के सा्थ हर की पैडी पर पहुंच कर हवन कार्यकम में शामिल हुए। उन्होंने मां गंगा के जल का आचमन करते हुए प्रदेश की जनता को बधाई देते हुए सभी को गंगा का अस्तित्व लौटाने और सरकार के झुकने पर पूरे प्रदेश वासियों को बधाई दी। आप प्रदेश प्रभारी और पार्टी के पदाधिकारियों ने इस जीत को सभी का मुंह मीठा करके मनाया। वहीं गंगा सभा के पुरोहितों द्वारा भी हवन का आयोजन किया गया जिसमें आप प्रभारी दिनेश मोहनिया ने मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत की। गंगा पुरोहितों ने भी आप पार्टी का आभार जताते हुए कहा कि आप पार्टी के आंदोलन समेत गंगा सभा के पुरोहितों के संघर्ष की बदौलत ही सरकार को घुटने टेकने पडे। इस दौरान आप प्रभारी दिनेश मोहनिया ने कहा कि ये तो शुरुआत है। आप पार्टी जनमुद्दों की खातिर और प्रदेश की जनता की भलाई के लिए हमेशा से ही संघर्षरत रही है और भविष्य में भी आप पार्टी जनता के हितों के लिए अपना सर्वोच्च न्योछावर करेगी।उन्होंने कहा कि एक असली राजनीतिक दल वही होता है जो जनता के हितों के लिए संघर्ष करे। लेकिन उत्तराखंड में बीजेपी और कांगेस ने उलटी गंगा बहा रखी है। लेकिन आप पार्टी के प्रदेश में दोबारा सक्रिय होने से दोनों ही पार्टियों के पसीने छूटने लगे है। आप पार्टी का इतिहास रहा है कि वो किसी भी कीमत पर जनता के साथ खिलवाड नहीं होने देती और आगे भी ऐसा ही पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा। आप पार्टी का हर सिपाही निष्पक्ष भाव से काम करने वाला है उनका कार्य सिर्फ जनता के हितों के लिए लडना और प्रदेश हित में लडना है।इसके साथ ही आप प्रभारी ने श्री मदन मोहन मावलीय जी की मूर्ति पर भी माल्यार्पण करते हुए उनका आशिर्वाद लिया। उन्होंने मालवीय जी के बलिदान केा लेकर कहा कि हमें मालवीय जी के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए जिन्होंने आजीवन सेवा भाव से कार्य करते हुए मां गंगा के लिए भी बडा आंदोलन किया।आप प्रभारी के साथ पार्टी के पदाधिकारियों में ओ पी मिश्रा, हेमा भण्डारी ,अनिल सती, रघुवीर सिंह पंवार, सैक्टर प्रभारी हरेन्द्र त्यागी, नवीन मारिया ,महक सिंह सैनी, दुष्यंत महारथी, प्रवीण कुमार , अमित विश्नोई, दिनेश असवाल ,संजू नारंग, अर्जुन सिंह, सोनिया कामरा, राकेश, दिनेश कुरियाल ,एडवोकेट नवीन चंचल ,एडवोकेट सचिन वेदी, शिशुपालसिंह नेगी, नवीन कौशिक ,प्रवीन चौहान , संजय मेहता, सनाजु , यशपाल चौहान,सुरेश तनेजा,जितेंद्र मलिक,सुरेश कुमार,,ममता सिंह,रेनू,रीता सिंह,गीता देवी, महावीर ,अमित, महेश, सुभम सैनी, पवन कुमार, समेत अनेक कार्यकर्ता शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *