उत्तराखण्ड की महिलाएं प्रत्येक क्षेत्र में सफलता का परचम फहरा रही हैं: श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज, इंस्पेक्टर सुनीता वर्मा ने निरंजनी अखाड़े पहुंचकर मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष से लिया आशीर्वाद

हरिद्वार । सीओ पद पर प्रोन्नत हुई अभिसूचना इकाई विशेष शाखा की इंस्पेक्टर सुनीता वर्मा ने निरंजनी अखाड़े पहुंचकर मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष व निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज से आशीर्वाद लिया। सुनीता वर्मा को माता की चुनरी व नारियल देकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि उत्तराखण्ड की महिलाएं प्रत्येक क्षेत्र में सफलता का परचम फहरा रही हैं। महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए सरकार लगातार कार्य कर रही है। शिक्षित महिलाएं ही राष्ट्र की उन्नति में अपना योगदान दे रही हैं। उन्होंने सीओ बनी सुनीता वर्मा को शुभ आशीर्वाद देते हुए कहा कि सीओ जैसे महत्वपूर्ण पद का दायित्व संभालने जा रही सुनीता वर्मा महिलाओं व अन्य पीड़ितों को न्याय दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगी। श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी का रूप ना ले। इसको लेकर सभी को जागरूक नागरिक की भूमिका निभानी होगी। अपने जीवन के साथ साथ दूसरे के जीवन की रक्षा करने के लिए तत्परता से कार्य करने होंगे। मोदी सरकार लगातार राज्य के मुख्यमंत्रियों को भी कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए गाइडलाईन दे रही है। सरकार के आदेशों व निर्देशों का पालन आमजनमानस को भी करना चाहिए। मां मंशा देवी के आशीर्वाद से अवश्य ही कोरोना की जंग जीत ली जाएगी। मां की भक्ति में अपार शक्ति होती है। सच्चे मन से की गयी आराधना अवश्य ही पूरी होती है। श्रीमहंत रविन्द्रपुरी महाराज ने कहा कि विश्व कल्याण की कामना को लेकर बरगद के पेड़ के नीचे अनेकों अनुष्ठान राज्य की सुख समृद्धि के लिए किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि चरणपादुका मंदिर में स्थित बरगद का यह पेड़ प्राचीन काल से संत महापुरूषों की तपस्थली रही है। बरगद के पेड़ के नीचे देवी देवताओं का वास होता है। इस दौरान श्रीमहंत रामरतन गिरी, स्वामी रघुवन, स्वामी धनंजय गिरी, स्वामी राजगिरी, मंशा देवी मंदिर ट्रस्ट के मुख्य ट्रस्टी प्रदीप शर्मा, अनिल शर्मा, स्वामी मधुरवन आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *