विधानसभा में उठा टायर फैक्ट्री के श्रमिकों का मामला, खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने अधिकारियों पर फैक्ट्री प्रबंधन से सांठगांठ का लगाया आरोप

लंढौरा । क्षेत्र की टायर फैक्ट्री मजदूरों के आंदोलन का मामला शुक्रवार को विधानसभा में उठा। भाजपा विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन ने इसे सदन में उठाते हुए अधिकारियों पर फैक्ट्री प्रबंधन से सांठगांठ का आरोप लगाया। जवाब में श्रम मंत्री ने सांठगांठ के आरोपों से इंकार किया। लक्सर की निजी टायर फैक्ट्री में प्रबंधन और श्रमिकों के बीच वेतन, भत्तों व अन्य शर्तों को तय करने के लिए तीन साल के बाद अनुबंध होता है। पुराने अनुबंध की अवधि दिसंबर 2020 में समाप्त हो चुकी है। नए अनुबंध की शर्तों के विरोध में फैक्ट्री के तीन चौथाई श्रमिक एक महीने से आंदोलन कर रहे हैं। पिछले दिनों श्रमिकों ने खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन से मिलकर यह मामला उठाया था। विधायक ने मदद का भरोसा दिया था। शुक्रवार को विधायक ने विधानसभा में इस मामले को उठाते हुए कहा कि ज्यादातर श्रमिक अनुबंध की शर्तों के विरोध में हैं और श्रम विभाग से फैक्ट्री प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं। आरोप लगाया कि विभागीय अधिकारियों की फैक्ट्री प्रबंधन से सांठगांठ है, लिहाजा वे इसमें कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। सदन में पूछे गए सवाल के जवाब में श्रम मंत्री ने विभागीय सांठगांठ के आरोपों को नकार दिया। कहा कि नए अनुबंध को पंजीकृत करने से पूर्व हरिद्वार के उप श्रमायुक्त व श्रम प्रवर्तन अधिकारी द्वारा श्रमिकों से भौतिक सत्यापन किया गया है। फैक्ट्री के कुल 2948 में से 1780 श्रमिकों ने अनुबंध के विरोध में शपथपत्र दिया है। इसीलिए अनुबंध का पंजीकरण नहीं किया गया है। मामले में आगे की कार्रवाई के संबंध में पूछे जाने पर श्रम मंत्री ने बताया कि श्रमिकों के प्रत्यावेदन पर श्रम विभाग नियमानुसार सुनवाई कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.