मानक मजरा और बहादरपुर के ग्रामीणों का मेडिकल परीक्षण किया गया, क्वारंटाइन किए गए लोगो में से 83 लोगों को आइसोलेशन वार्ड में जांच के लिए भेजा गया

हरिद्वार / रुड़की । मानकमजरा और बहादुरपुर गांव के ग्रामीणों का मेडिकल परीक्षण किया गया है जबकि कलियर के गेस्ट हाउसों में क्वारंटाइन किए गए लोगो में से 83 लोगों को शुक्रवार सुबह तीन बजे आइसोलेशन वार्ड में जांच के लिए भेजा गया। तबलीगी जमात से जुड़े लोगों सहित उनके सम्पर्क आए लोगों को कलियर के अलग अलग गेस्ट हाउसों में क्वारंटाइन किया गया है। जिसमें सभी लोगों की स्वास्थ्य विभाग द्वारा रोजाना स्क्रीनिंग की जा रही है। नोडल अधिकारी डॉ. मोहम्मद उस्मान ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब तीन बजे 83 लोगों कोक्वाडरा, ऋषिकुल और ओमबायो में आइसोलेट किया गया है। जिनके सैंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से हर रोज क्वारंटाइन किए गए लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है और जिन्हें दिक्कत हो रही है। उन्हें आइसोलेट किया जा रहा है। गेस्ट हाउसों को सेनिटाइज किया जा रहा है। क्वारेंटाइन किए गए लोगों का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। इस मौके पर डॉ. विवेक तिवारी, फार्मासिस्ट जमशेद अली, ब्रजेश कुमार आदि मौजूद रहे। जबकि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बहादरपुर खादर गांव से सटे लक्सर नगर के लक्सरी मोहल्ले में घर घर जाकर लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की। आरबीएसके मैनेजर मोहम्मद इब्राहिम ने बताया कि टीमें 346 परिवारों के बीच गई। इन परिवारों के 1937 सदस्यों के स्वास्थ्य की जांच की गई है। जांच में किसी को भी खांसी, जुकाम, बुखार या सांस की परेशानी नहीं पाई गई है। इसकी रिपोर्ट सीएमओ कार्यालय भेज दी गई है। टीम में आरबीएसके के डॉ. दुष्यंत चौधरी, फार्मासिस्ट चंद्रमोहन कटारिया, प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर सोहनलाल, अरविंद गर्ग और बबीता गुप्ता मौजूद थे। वहीं मानक मजरा में कोरोना पॉजीटिव मरीज मिलने के बाद पुलिस ने गांव को सील किया हुआ है। स्वास्थ्य विभाग की आठ टीमों ने अभी तक टीमों ने 4752 लोगों का चेकअप किया है। मानक मजरा में 14 अप्रैल को बुजुर्ग में कोरोना वायरस संक्रमण पॉजीटिव पाए जाने पर पुलिस प्रशासन ने गांव के सम्पर्क मार्गो की सील कार्रवाई की गई थी। स्वास्थ्य विभाग ने भी पूरे गांव की स्क्रीनिंग शुरू कर दी है। चिकित्सा प्रभारी डॉ. विक्रांत सिरोही ने बताया कि मानक मजरा गांव में आठ टीमों ने अभी तक 4752 लोगों का चेकअप किया है। साथ ही उन्होंने बताया कि गांव में दो एंबुलेंस भी रखी गई हैं। पूरे गांव को सेनेटाइजर कराया जा चुका है। बताया कि गांव की 120 गर्भवती महिलाओं का खास ध्यान रखा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *