भाजपा जिला कार्यकारिणी में इस बार नए चेहरे, नया प्रदेश अध्यक्ष बनने से बदले भाजपा के आंतरिक सियासी समीकरण

रुड़की । भाजपा जिला कार्यकारिणी में इस बार नए चेहरे आने की संभावना है। इसकी वजह यह प्रदेश अध्यक्ष बदलने के कारण भाजपा के आंतरिक के सियासी समीकरण भी बदल गए हैं। यदि अजय भट्ट के प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए कार्यकारणी घोषित होती तो अधिकतर पुराने लोगों को ही जिला कार्यकारणी में स्थान मिल गया होता। लेकिन अब प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत बन गए हैं और उनके हरिद्वार जनपद में स्वागत की तैयारियां भी जोरों पर चल रही है । 24 जनवरी को उनका हरिद्वार जनपद में आगमन है । जिसमें भगवानपुर, रुड़की, बहादराबाद हरिद्वार में उनका जोरदार स्वागत होगा। इसके लिए जिलाध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान और पार्टी के विधायकों ने स्वागत कार्यक्रम की रूपरेखा भी तैयार कर ली है। पार्टी के अन्य नेताओं और दायित्वधारियों को भी जिम्मेदारी सौंपी गई है। माना जा रहा है कि भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के 24 जनवरी के आगमन के बाद ही जिला कार्यकारिणी घोषित होगी। जानकारी के लिए बता दें कि भाजपा में महामंत्री उपाध्यक्ष पद के कई दावेदार हैं। जिसमें मुख्य रुप से महामंत्री के दोनों पदों पर कई मजबूत कार्यकतार्ओं के द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। इसमें एक महामंत्री हरिद्वार और दूसरा रुड़की क्षेत्र का बनने की अधिक संभावना है। अबे पार्टी की ताजा स्थिति पर गौर किया जाए तो महामंत्री उपाध्यक्ष व अन्य पदों के लिए जातीय समीकरण बैठाने जैसी कोई बात नहीं रह गई है। क्योंकि पार्टी ने जो हाल में दायित्व वितरित किए हैं । उसमें कहीं पर भी जातीय संतुलन जैसी बात नजर नहीं आई है। इसीलिए सभी कार्यकर्ता जिला स्तरीय पद हासिल करने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहे हैं। इतना जरूर है कि जिला कार्यकारिणी में केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के करीबी लोगों को अच्छी जगह मिल सकती है। क्योंकि भाजपा जिलाध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के समर्थक माने जाते हैं। हालांकि डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान कई बार कह चुके हैं कि जो भी संगठन हित में होगा । वह वही निर्णय लेंगे । वह यह भी स्पष्ट कर चुके हैं कि पार्टी हाईकमान के निदेर्शानुसार ही जिला कार्यकारिणी गठित की जाएगी। नई कार्यकारिणी गठन में खेमेबंदी जैसी बात कहीं नजर नहीं आएगी। वहीं सूत्रों ने बताया कि भाजपा युवा मोर्चा भाजपा किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष पद को लेकर दावेदारों के प्रयास काफी तेज हो गए हैं। भाजपा में युवा मोर्चा और किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष पद काफी महत्वपूर्ण माने जाते हैं। इसीलिए इन दोनों पदों पर कई कई दावेदार है। जिला कार्यकारिणी और युवा मोर्चा के अध्यक्षों के नाम अब फरवरी माह के पहले सप्ताह में घोषित होने की संभावना है। यदि प्रदेश अध्यक्ष से अनुमति मिल गई तो कार्यकारणी और मोर्चा अध्यक्षों के नाम इससे पहले भी घोषित हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *