कुंभ को लेकर गंभीर नहीं हैं त्रिवेंद्र सरकार, आप जिलाध्यक्ष हेमा भंडारी ने कहा धरातल पर काम नहीं सिर्फ बातें कर रही सरकार

हरिद्वार । हरिद्वार में कुंभ में अब बहुत कम समय बचा है लेकिन सरकार की तैयारियों को देखकर लगता है राज्य सरकार अभी भी कुंभ को लेकर ,कुंभकर्णी नींद से नहीं जागी। सरकार की स्तिथि महाकुंभ को लेकर स्पष्ट नही है अखाड़े ओर साधु संत टेंट की व्यवस्था की मांग कर रही है व्यापारी असमंजस स्तिथि में है ।कुम्भ को लेकर जारी गाइड लाइन स्पस्ट नही है । अधिकारी और सरकार के बीच सामंजस्य नही है । सरकार की उदासीनता कुंभ कार्यों पर भारी पडती नजर आ रही है। कुंभ से जुडे कई कार्यों के लिए अभी तक बजट अवमुक्त नहीं हो पाया है। जिससे अभी भी कई निर्माण कार्य अधर में लटके हुए हैं। आप पूर्व प्रवक्ता हेमा भण्डारी ने कहा कि कुंभ को लेकर राज्य सरकार खूब लोक लुभावनी बातें करती नहीं थक रही है लेकिन निर्माण कार्योंं पर हो रही देरी से कुंभ में संकट मंडरा सकता है। उन्होंने कहा कि कुंभ का ताल्लुक सिर्फ भारत से ही नहीं है यहां विश्व के कई देशों से लोग मां गंगा में आस्था की डुबकी लगाने आते हैं लेकिन इस तरह की चरमराई व्यवस्थाओं से लोगों पर उत्तराखंड के प्रति नकारात्मक प्रभाव पडेगा। उत्तराखंड सांस्कृतिक प्रदेश है और यहां की संस्कृति को समझने और एहसास करने लोगों का यहां आना लगा रहता है। लेकिन जिस तरह से अव्यवस्थाएं कुंभ कार्यों के शुरू होने से पहले दिख रही हैं उससे यह लगता है कि कुंभ अपने समय पर तो पूर्ण हो जाएगा लेकिन शायद तब भी निर्माण कार्य पूरे नहीं हो पाएंगे। उन्होंने कहा कि करोडों श्रद्धालु कुंभ के दौरान हरिद्वार आंऐगे उनकी गाडियों की पार्किंग व्यवस्था, शौचालय की व्यवस्था, कोरोना से निपटने के इंतजाम से लेकर तमाम ऐसे मूलभूत जरूरत है जो कुंभ के दौरान बेहद जरूरी है लेकिन कार्यों की अधूरी व्यवस्था सरकार की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा रही है । फ्लाई ओवर पूरे नहीं हुए,पुलों का बनाना बाकी है , होम गार्ड के कितने जवान हरिद्वार में तैनात होंगे और खाने पीने से लेकर यातायात की क्या व्यवस्था होगी । इस सब पर सरकार को जनता को बताना चाहिए कि क्या सरकार कुंभ के लिए पूरी तरह से तैयार है। कोरोना काल में करोंडों की भीड को सरकार कैसे व्यवस्थित कर पाएगी,इतने लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग फाॅलो करवा पाएगी इस पर भी सरकार को जवाब देना होगा। कुंभ मेले के लिए प्रशासन कई तरह से हरिद्वार में आयोजन करवाने की बात कर रहा है लेकिन अगर किसी का स्वास्थय खराब हो तो उसके लिए अस्पताल की क्या व्यवस्था होगी। ऐसे कई तरह के कार्य हैं जो हरिद्वार में अभी होने बाकी हैं लेकिन बजट की कमी और सरकार की दूरदर्शिता की कमी से ये कार्य अभी भी अधर में लटके हैं। आप पार्टी ये उम्मीद करती है कि सरकार जल्द से जल्द अधूरे कामों को पूरा करवाएं और अपनी दूरदर्शिता दिखाते हुए जल्द ही बचे हुए निर्माण कार्यों को पूरा करेगी और कुंभ का सफल आयोजन करवा पाएगी।
इस अवसर पर अनिल सती, संजू नारंग, पवन धीमान, शाह अब्बास ,बॉबी कश्यप , दिनेश कुमार उपस्तिथ रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *