उत्तर प्रदेश पुलिस की उत्तराखंड में निकली हेकड़ी, दबिश देने आई पुलिसकर्मियों को ग्रामीणों ने बनाया बंधक

देहरादून । काशीपुर में मारपीट के एक मामले में दबिश देने आई स्वार(रामपुर) पुलिस के तीन जवानों को ग्रामीणों ने घेर लिया। ग्रामीण का कड़ा विरोध देख यूपी पुलिस को गिरफ्त में आए आरोपी को छोड़ना पड़ा। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची आईटीआई थाने की पुलिस ने यूपी पुलिस के जवानों को गांव से सकुशल निकाला। आईटीआई थाना क्षेत्र के दभौरा मुस्तकम गांव निवासी मुनाजिर पुत्र अमजद अली ने बीती पांच फरवरी को आईटीआई थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें कहा था कि उसके भतीजे आरिफ पुत्र नजर हुसैन के साथ ग्राम परमानंदपुर निवासी नईम पुत्र मो.उमर, यूपी के ग्राम घोसीपुरा निवासी मोनू पुत्र मो.उमर मारपीट कर रहे थे। जब उसने रोकने का प्रयास किया तो दोनों उससे भी गाली गलौज करने लगे। इसके बाद उसका भाई लियाकत भी वहां पहुंच गया। यहां नईम ने फोन कर अपने घोसीपुरा निवासी अन्य साथी नवाब, गुड्डू, मोनू और अजीम को बुला लिया। बोलेरो से आये नईम के साथियों ने उसके और भाई लियाकत को गाड़ी से कुचलने का प्रयास किया। आईटीआई थाना पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की थी। दूसरी तरफ घोसीपुरा निवासी नईम पुत्र मो.उमर ने भी यूपी के स्वार थाने में ग्राम परमादंपुर निवासी जमशेद, इरफान, जीशान, इमरान के खिलाफ मारपीट की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसी मामले में मंगलवार देर रात स्वार पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर यहां दबिश दी। यूपी पुलिस के गांव में पहुंचते ही ग्रामीण इकट्ठा हो गए। ग्रामीणों ने पुलिस से वारंट दिखाने के लिए कहा। पुलिस वारंट नहीं दिखा पाई तो ग्रामीणों ने हंगामा करते हुए यूपी पुलिस के तीन जवानों को घेरकर बैठा लिया। हंगामा बढ़ता देख यूपी पुलिस को गिरफ्त में आए आरोपी को छोड़ना पड़ा। इसी बीच ग्रामीणों ने 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस को भी सूचना दे दी। सूचना पर आईटीआई थाना पुलिस ने यूपी पुलिस को ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ाकर निकाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *