विजिलेंस की कार्रवाई, सचिवालय में तैनात समीक्षा अधिकारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार, की थी एक लाख रुपए रिश्वत की मांग

देहरादून । सचिवालय में तैनात समीक्षा अधिकारी को विजिलेंस ने 75 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। पहली बार किसी सचिवालय कर्मचारी के रिश्वत लेते हुए पकड़े जाने से सचिवालय में हड़कंप मचा हुआ है। एसपी विजिलेंस धीरेंद्र गुंज्याल के अनुसार वर्ष 2008 में सिंचाई विभाग से रिटायर्ड इंजीनियर किशन चंद अग्रवाल से लंबित देयकों के भुगतान के एवज में सचिवालय में तैनात समीक्षा अधिकारी कमलेश थपलियाल ने एक लाख रुपये की रिश्वत की मांग की। 75 हजार रुपए में डील फाइनल हुई। रिटायर्ड इंजीनियर अग्रवाल ने विजिलेंस के देहरादून सेक्टर में इसकी शिकायत की। विजिलेंस ने आरोपी समीक्षा अधिकारी को ट्रैप करने की प्लानिंग बनाई और आज शाम को रिटायर्ड इंजीनियर को रुपए लेकर आरोपी के पास भेजा। जैसे ही रिटायर्ड अभियंता ने आरोपी के हाथ में रुपए थमाए, आसपास मौजूद विजिलेंस की टीम ने उसे रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया। विजिलेंस ने आरोपी समीक्षा अधिकारी को अपनी हिरासत में ले लिया। विजिलेंस ने आरोपी के घर पर भी छापा मारकर कई दस्तावेज अपने कब्जे में लिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *