40 साल की उम्र में कितना होना चाहिए ब्लड शुगर, देखें- फॉस्टिंग से लेकर खाने के बाद तक का शुगर चार्ट

डायबिटीज एक ऐसी क्रॉनिक बीमारी है जो किसी भी उम्र में लोगों को अपनी चपेट में कर रही है। डायबिटीज की बीमारी खराब डाइट और बिगड़ते लाइफस्टाइल की वजह से पनपने वाली बीमारी है। डायबिटीज की बीमारी होने पर बॉडी में उसके लक्षण दिखने लगते हैं। बार-बार पेशाब आना, प्यास ज्यादा लगना, घाव का देरी से भरना, भूख ज्यादा लगना डायबिटीज के लक्षण हैं। ये बीमारी तब होती है जब पैंक्रियाज इंसुलिन का उत्पान कम करना या फिर पर्याप्त उत्पादन नहीं करता तो ब्लड में शुगर का स्तर हाई होने लगता है। ये बीमारी एक बार हो जाए तो तमाम उम्र इस बीमारी के साथ ही रहना पड़ता है। जनरल फिजिशियन डॉ पाखी शर्मा के मुताबिक डायबिटीज के मरीजों के लिए सबसे जरुरी काम ब्लड शुगर को कंट्रोल करना है। जिन लोगों का लगातार ब्लड शुगर हाई रहता है उन्हें दिल, किडनी,लंग्स और आंखों की रोशनी को नुकसान पहु्ंच सकता है। डायबिटीज के मरीज ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए डाइट का ध्यान रखें, बॉडी को एक्टिव रखे और दिन में दो बार ब्लड शुगर को टेस्ट करें। अगर आपकी उम्र 40 साल है और आप डायबिटीज के मरीज है तो इस उम्र में आपको पता होना चाहिए कि आपका दिन भर ब्लड शुगर का स्तर कितना होना चाहिए। आइए जानते हैं कि इस उम्र में दिन भर ब्लड शुगर का स्तर कितना रहना चाहिए।

यदि जिस व्यक्ति का फास्टिंग ब्लड शुगर लेवल 130 mg/dL से अधिक हो आए और खाने के दो घंटे बाद ब्लड शुगर का स्तर180 mg/dLसे ज्यादा हो जाए तो ब्लड शुगर का स्तर हाई माना जाता है। अगर रेंज इससे भी ज्यादा है तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *