नारी सशक्तिकरण के बिना मानवता का विकास अधूरा, शिक्षित समाज के लिए महिलाओं का शिक्षित होना जरूरी, महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम में बोले मेयर गौरव गोयल

रुड़की । मेयर गौरव गोयल ने कहा कि महिला सशक्तिकरण का उद्देश्य तभी सार्थक हो सकता है जब महिलाएं शिक्षित होकर समाज में आगे बढ़ें। सरकार ने महिला उत्थान के लिए अनेकों योजनाएं संचालित कर रखी है,जिनका लाभ उन्हें मिलना चाहिए।उक्त विचार मेयर गौरव गोयल ने रामनगर स्थित डाइट सभागार में आयोजित महिला सशक्तिकरण की योजनाओं के संबंध में हुए एक कार्यक्रम में व्यक्त किए। उन्होंने कहा महिलाएं स्वावलंबन होकर आगे बढ़ें तथा सरकार द्वारा दी जा रही योजनाओं का लाभ उठाएं।मेयर गौरव गोयल ने स्वच्छता को जीवन का आधार बताते हुए इसकी महत्ता पर प्रकाश डाला तथा कहा कि स्वच्छता आज की सबसे बडी जरूरत है,जिसके लिए भारत सरकार ने भी महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं, यदि स्वच्छता रहेगी तो मनुष्य एवं वातावरण भी स्वस्थ रहेगा।उन्होंने छात्रों द्वारा निकाली गई स्वच्छता पखवाडा रैली को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।बाल विकास अधिकारी धर्मवीर सिंह ने भी सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया तथा कहा कि सरकार की अनेकों योजनाएं ऐसी संचालित हैं, जिनसे महिलाओं व युवाओं को लाभ पहुंचाया जा सकता है।कार्यक्रम में श्रीमती सुनीता जोशी तथा श्रीमती राखी ने भी अपने विचार व्यक्त किए।इस दौरान महिला शक्ति केंद्र के छात्रों को डायरी जैकेट,कैप तथा विभागीय योजनाओं के संबंधित बुकलेट इत्यादि प्रदान किए गए।बाल विकास परियोजना अधिकारी धर्मवीर सिंह ने मुख्यअतिथि का स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया तथा छात्रों द्वारा महिला सशक्तिकरण एवं महिलाओं से संबंधित विषयों पर अनेक जानकारियां दी गई। कार्यक्रम का संचालन सुपरवाइजर श्रीमती लक्ष्मी यादव ने किया।इस अवसर पर स्वास्थ्य अधिकारी श्रीमती राजेश,श्रीमती संध्या,नजमा मंसूरी,उमा त्यागी तथा सुमनलता आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *