मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ठाकुर सुरेंद्र सिंह और विशाल सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की

रुड़की । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज यहां पहुंच कर सोलानीपुरम में भाजपा नेता ठाकुर योगेंद्र सिंह के पुत्र विशाल सिंह और भलस्वागाज में सीएम सलाहकार प्रोफेसर नरेंद्र सिंह के भाई ठाकुर सुरेंद्र सिंह के निधन पर दुख व्यक्त कर शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत आज सुबह रुड़की पहुंचे। यहां से वह सोलानीपुरम में गए। जहां पर उन्होंने भाजपा किसान मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर योगेंद्र सिंह के आवास पर पहुंचकर पिछले दिनों हुए उनके पुत्र के निधन पर शोक व्यक्त किया है । मुख्यमंत्री ने ठाकुर योगेंद्र सिंह से कहा है कि दुख की इस घड़ी में वह उनके साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा कि युवा पुत्र का निधन हो जाना जीवन में इससे कष्टदायक घड़ी कोई नहीं हो सकती। पर ईश्वर को जो मंजूर है। उसे कोई टाल नहीं सकता । उन्होंने कहा कि विशाल एक होनहार युवक था जो हमेशा के लिए जुदा हो गया। उसकी याद हमेशा आएगी । बता दें कि ठाकुर विशाल सिंह 32 वर्ष की हृदयघात के कारण मृत्यु हो गई थी।उनकी मृत्यु से जहां पूरा परिवार सदमे में है। शोक संवेदना व्यक्त करने वालों में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अलावा रुड़की के मेयर गौरव गोयल,विधायक देशराज कर्णवाल,भाजपा जिलाध्यक्ष डॉक्टर जयपाल सिंह चौहान,मंडल अध्यक्ष प्रवीण सिंधु,पार्षद रमेश जोशी,मयंक गुप्ता,अभिषेक चंद्रा,प्रदीप चौधरी, पूर्व दायित्व धारी श्यामवीर सैनी ,राजकुमार पुंडीर, मुकेश अग्रवाल,संजय गुप्ता उर्फ नीलू, भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष सागर गोयल, सौरभ गुप्ता,रामगोपाल कंसल,अभय सिंह पुंडीर, शुभम शर्मा,अनुराग कौशिक,नितिन त्यागी, नितिन गोयल,आकाश गोयल,सरदार हरविंदर सिंह, इमरान देशभक्त के अलावा डी सेंथिल अबू दाई कृष्णराज एसएसपी हरिद्वार,एसपी देहात नवनीत सिंह,सीओ चंदन सिंह बिष्ट,एएसडीएम रविंद्र सिंह बिष्ट,नगर आयुक्त नूपुर वर्मा सहित अनेक प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। इसके बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भगवानपुर क्षेत्र के भलस्वागाज गांव पहुंचे । जहां पर उन्होंने अपने सलाहकार प्रोफेसर नरेंद्र सिंह के बड़े भाई मैनेजर ठाकुर सुरेंद्र सिंह के निधन पर शोक व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने ठाकुर सुरेंद्र सिंह के सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्र में किए गए अच्छे प्रयासों की सराहना की।

उन्होंने कहा कि ठाकुर सुरेंद्र सिंह सामाजिक उत्थान के प्रयास में लगे हुए थे । उनके द्वारा कई शिक्षण संस्थाएं विकसित की। जिससे कि क्षेत्र के लोगों को लाभ पहुंचा। उन्होंने कहा कि ठाकुर सुरेंद्र सिंह ने राजनीतिक क्षेत्र में भी काफी काम किया गन्ना और सहकारिता के क्षेत्र में उन्होंने कई बार समितियों के अच्छे बोर्ड गठित कराए। मुख्यमंत्री ने शोकाकुल परिवार को सांत्वना दें और दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर मुख्य रूप से उत्तराखंड किसान आयोग के अध्यक्ष राकेश राजपूत, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ जयपाल सिंह चौहान ,झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल, जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष प्रदीप चौधरी, गन्ना विकास समिति के प्रशासक सुशील चौधरी ,भाजपा प्रदेश महामंत्री सुबोध राकेश, भाजपा नेता सुभाष वर्मा ,चेयरमैन इंजीनियर नवनीत सिंह ,भाजपा नेता मयंक गुप्ता एडवोकेट राजेंद्र चौधरी,राव इरशाद अली, मोहित गोयल, डॉ सौरभ गुप्ता, राजे ने पिछड़ा आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष एडवोकेट शमीम अहमद, लोकतांत्रिक जनमोर्चा के संयोजक सुभाष सैनी, अनिरुद्ध सिंह, आशुतोष शर्मा, ठाकुर सुशील चौहान, बाबू रणविजय सिंह, डॉक्टर जोध सिंह वर्मा, पूर्व विधायक हाजी मोहम्मद शहजाद, श्यामवीर सिंह सैनी, पवन तोमर, देवी सिंह राणा, विशाल शर्मा, आदि ने शोकाकुल परिवार को सांत्वना दी और दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *