हरिद्वार में प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत जून तक 7,85,540 बैंक खाते खोले जा चुके, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीर सिंह बुदियाल की अध्यक्षता में आयोजित हुई बैठक

हरिद्वार ।  अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीर सिंह बुदियाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार रोशनाबाद में जिला स्तरीय समीक्षा समिति/जिला सलाहकार समिति की संयुक्त बैठक आयोजित हुई।  

बैठक में लीड बैंक मैनेजर श्री संजय संत ने बताया एमएल प्रधानमंत्री जनधन योजना के अन्तर्गत हरिद्वार जनपद में योजना के प्रारम्भ से लेकर माह जून 2021 तक 7,85,540 बैंक खाते खोले जा चुके हैं, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के अन्तर्गत 4,41,100 व्यक्तियों को बीमित किया जा चुका है, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अन्तर्गत 1,30,564 व्यक्तियों को बीमित किया जा चुका है, अटल पेंशन योजना के अन्तर्गत 67,836 व्यक्तियों को पेंशन का लाभ दिया जा चुका है। श्री संत ने यह भी बताया कि जनपद में माह जून 2021 तक 88.11 प्रतिशत सक्रिय जमा खातों में आधार सीडिंग की जा चुकी है, सूचना प्रौद्यागिकी आधारित वित्तीय समावेशन को प्रेरित किया जा रहा है, जनपद में ऋण-जमा अनुपात का प्रतिशत 57.39 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि 08 बैंक राष्ट्रीय लक्ष्य से नीचे हैं। जिन बैंको द्वारा राष्ट्रीय लक्ष्य से कम लक्ष्य प्राप्त किया गया है, उन्हें अपर जिलाधिकारी ने लक्ष्यानुसार ऋण जमा अनुपात बढ़ाने के निर्देश दिए। लीड बैंक मैनेजर श्री संत ने बताया कि माह जून 2021 की स्थिति अनुसार जनपद का कृषि क्षेत्र अग्रिम कुल अग्रिम का 16.84 है, प्राथमिकता क्षेत्र अग्रिम कुल अग्रिम का 47.6 प्रतिशत तथा कमजोर वर्ग अग्रिम कुल अग्रिम का 17.2 प्रतिशत है। श्री सन्त ने बताया कि कृषकों की आय को वर्ष 2022 तक दोगुना किये जाने का लक्ष्य है, जिसके लिए कृषि गतिविधियों से संबंधित अधिक से अधिक ऋण वितरित किये जाने हैं। जनपद में 21858 (नए एवं नवीनीकरण) कृषि कार्ड बनाए गये हैं। प्रधान मंत्री रेहड़ी-पटरी आत्म निर्भर निधि के अन्तर्गत जनपद में विभिन्न बैंकों द्वारा 1144 ऋण आवेदन स्वीकृत किये गये हैं। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत जनपद में विभिन्न बैंकों द्वारा 58 ऋण आवेदन स्वीकृत किये गये। अपर जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि इस संबंध में जो भी आवदेन लम्बित है, उन्हें एक सप्ताह में निष्पादित करें।
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डे एनआरएलएम) के अंतर्गत 788 आवेदन स्वीकृत किये गए हैं। इस संबंध में सहायक परियोजना निदेशक (एनआरएलएम) नलनीत घिल्डियाल ने बताया कि कुछ बैंकों द्वारा ऋण आवेदनों के संदर्भ में आवश्यक सहयोग नहीं मिल रहा है, जिससे संबंधित योजनाओं की लक्ष्य पूर्ति में समस्या आ रही है, इस पर अपर जिलाधिकारी श्री बीर सिंह बुदियाल ने कहा कि सभी बैंक एवं संबंधित विभाग आपसी समन्वय एवं सहयोग की भावना से कार्य करें, जिससे विभिन्न योजनाओं में राष्ट्रीय लक्ष्यों की प्राप्ति की जा सके। उन्होंने कहा कि आवेदनों के निस्तारण में किसी प्रकार की लापरवाही न करें। लीड बैंक मैनेजर संजय संत ने बैठक में बताया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) के अंतर्गत 25 आवेदन स्वीकृत किए गए हैं। प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना के अंतर्गत 13 ऋणियों द्वारा विभिन्न बैंकों को सीधे आवेदन प्राप्त हुए और सभी आवेदन स्वीकृत किये गए हैं। स्वतः रोजगार योजना के अंतर्गत 09 ऋण आवेदन स्वीकृत हुए हैं। इस संबंध में जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध ने बताया कि विभाग को 40 आवेदन और प्राप्त हुए हैं।
श्री संत ने बैठक में लघु व मध्यम उद्यमों (एमएसएमई), मुद्रा योजना, स्टैंडअप योजना आदि के बारे में भी जानकारी दी। बैठक में अपर जिलाधिकारी ने सभी संबंधित विभागों एवं बैंक प्रतिनिधियों को निर्देश दिए कि लाभार्थिंयों द्वारा किए गये आवेदनों को यदि निरस्त किया जाता है तो, निरस्त करने का कारण स्पष्ट रूप से उल्लेख करें, जो भी डाटा उपलब्ध कराया जाए, वह पूर्ण रूप से प्रमाणित हों, प्रकरणों को अधिक समय तक लम्बित न रखें तथा जल्द से जल्द लक्ष्यों की प्राप्ति का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि कैम्प लगाकर लोगों को जागरूक करें तथा विभिन्न योजनाओं की जानकारी देकर पात्र लाभार्थिंयों को आवेदन करवायें। इस अवसर पर महाप्रबधन्क जिला उद्योग केन्द्र पल्लवी गुप्ता, मुख्य उद्यान अधिकारी नरेन्द्र यादव, जिला पर्यटन अधिकारी श्रीमती सीमा नौटियाल, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी योगेश भारद्वाज, सहायक निदेशक डेयरी पीयूष आर्य, आरबीआई प्रतिनिधि महेश सिंह, सर्किंल हैड पीएनबी विकल, एसबीआई प्रतिनिध नन्द किशोर, बंधन बैंक से मनीष कुमार यादव, बैंक ऑफ बड़ौदा से विपिन बिष्ट, बैंक ऑफ इंडिया से अजय कुमार भाष्कर, बैंक ऑफ महाराष्ट्र से रवि कुमार, कैनरा बैंक से अनेन्द्र सिंह, सेन्ट्रल बैंक ऑफ इण्डिया से श्री कुणाल, जे0एण्ड के0 बैंक प्रतिनिधि अजय गुप्ता, इण्डसंड बैंक से आशुतोष गुप्ता, कर्नाटक बैंक से अमित बजाज, नैनीताल बैंक प्रतिनिधि दलवीर सिंह, ग्रामीण बैंक से दीपक, पंजाब एण्ड सिंध बैंक प्रतिनिधि कार्तिक रौतेला, यूको बैंक प्रतिनिधि सुश्री दिव्या चौधरी, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया से एस0के0 सचान, इंडिया पोस्ट पैमेन्टस एण्ड बैंक प्रतिनिधि विजय प्रसाद, कृष्ण कुमार, रंजन भारद्वाज, गुरमीत सिंह सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी गण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *