उत्तम शुगर मिल के चेक बाउंस होने पर भड़के किसान, गन्ना विकास समिति चेयरमैन ने जताया अफसोस ,कहा किसानों के साथ इस तरह धोखा ना करें चीनी मिल प्रबंधन

रुड़की । उत्तम शुगर मिल प्रबंधन ने किसानों के साथ बड़ा छलावा किया है। उसके द्वारा गन्ना भुगतान के संबंध में जो 7 करोड से अधिक की कीमत के गन्ना विकास समिति लिब्बरहेडी को चेक भेजे गए हैं वह बाउंस हो गए हैं। इस पर गन्ना किसान भड़क उठे हैं और साथ ही गन्ना विकास समिति की चेयरमैन और उनके प्रतिनिधि ने चीनी मिल प्रबंधन के रवैए पर अफसोस जताया है। गन्ना विकास समिति की चेयरमैन रेनू रानी के प्रतिनिधि डीसीबी डायरेक्टर सुशील राठी ने कहा कि एक तो उत्तम शुगर मिल पहले ही गन्ने का भुगतान काफी देर से कर रहा है। उसके द्वारा अभी तक 5 दिसंबर तक का ही भुगतान दिया गया है। अब जो गन्ना समिति को चेक भेजे गए हैं। वह सब बाउंस हो गए हैं । चीनी मिल प्रबंधन की यह हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी । किसानों में इस बात को लेकर गहरा रोष है। उन्होंने कहा कि संबंध में शासन को शिकायत की जाएगी । उन्होंने कहा कि यदि चीनी मिल प्रबंधन ने अपने रवैए में सुधार नहीं किया तो समिति बोर्ड वन प्रबंधन के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित करेगा और आवश्यकता पड़ने पर इस संबंध में कानूनी कार्रवाई भी करेगा। समिति चेयरमैन के प्रतिनिधि डीसीबी डायरेक्टर सुशील राठी ने कहा कि उत्तम शुगर मिल प्रबंधन स्थानीय किसानों के गन्ने से उत्पादित चीनी बेचकर बाहर के किसानों का नगद गन्ना खरीद रहा है । जबकि स्थानीय किसानों को दोहरा नुकसान हो रहा है। एक तो स्थानीय किसान का भुगतान नहीं मिल रहा है। दूसरे बाहर का गन्ना खरीदने से स्थानीय किसानों का गन्ना भी कम खरीदा जा रहा है। चीनी मिल प्रबंधन यदि यह मान रहा हो कि उसकी चालाकी स्थानीय किसान नहीं समझ रहा है यह उसकी नासमझी है । स्थानीय गन्ना किसान चीनी मिल प्रबंधन का पूरा सहयोग कर रहा है लेकिन वह स्थानीय किसान की आर्थिक दिक्कत को जरा भी गंभीरता से नहीं ले रहा है। वहीं दूसरी ओर उत्तम चीनी मिल द्वारा गन्ने का कम इंडेंट भेजे जाने के कारण गन्ना खरीद पर्ची का नियमितीकरण न होने से नाराज किसान भारतीय किसान यूनियन तोमर के नेतृत्व में बुधवार को किसान उत्तम चीनी मिल गेट पर धरना प्रदर्शन करेंगे। इलाके के गन्ना किसानों को पेराई सत्र शुरू होने के बाद से ही गन्ना खरीद पर्ची उनकी जरूरत के मुताबिक नहीं मिल पा रही है। जिससे गन्ना किसानों में चीनी मिल प्रबंधन के खिलाफ भारी नाराजगी है भारतीय किसान यूनियन तोमर गुट के जिलाध्यक्ष विकेश कुमार बालियान का कहना है कि चीनी मिल प्रबंधन अपने रवैया में सुधार नहीं ला रहा है। किसानों के बार-बार चेतावनी दिए जाने के बावजूद भी मिल प्रबंधन अपनी हेराफेरी करने से बाज नहीं आ रहा है। इलाके में पर्याप्त गन्ना होने के बावजूद इकबालपुर चीनी मिल क्षेत्र के भी काफी सेंटर उत्तम चीनी मिल ने ले लिए हैं। उन्होंने कहा कि गन्ना खरीद पर्ची व गन्ना भुगतान को लेकर बुधवार से बड़ा आंदोलन छेड़ा जाएगा। उत्तम चीनी मिल गेट पर हजारों की संख्या में किसान एकत्र होंगे। जिसकी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। चीनी मिल प्रबंधन की मनमानी नहीं चलने दी जाएगी। उसे स्थानीय गन्ना किसानों का भुगतान भी जल देना होगा वह इंडेंट भी अधिक मात्रा में जारी करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *