Alcohol लेने के बाद लेते हैं पेरासिटामोल की गोली तो हो जाएं सावधान, इस अंग को हो सकता है सबसे ज्‍यादा नुकसान

हर घर में कोई न कोई छोटा मोटा डॉक्टर बन ही जाता है। जब भी बुखार या दर्द की बात आती है तो हम झट से पेरासिटामोल ले लेते हैं। दरअसल पेरासिटामोल दर्द से राहत देता है। यह शरीर के तापमान में वृद्धि (बुखार) को भी कम करता है। इसलिए बिना डॉक्टर के सलाह के भी लोग इसका सेवन कर लेते हैं। चूंकि डॉक्टर खुद भी सिर दर्द, दांत दर्द, सर्दी या फ्लू से राहत के लिए पेरासिटामोल का सेवन की सलाह देते हैं। गौर करने लायक बात यह है कि महामारी के दौरान बुखार कम करने के लिए पेरासिटामोल का इस्तेमाल और भी ज्यादा बढ़ गया है। पेरासिटामोल अन्य नाम अल्वेडॉन, कैलपोल, डिस्प्रॉल, हेडेक्स, मंडनॉल, मेडिनोल, पैनाडोल आदि नामों से भी जानी जाती है। इस दवाई को भी लेने के लिए कुछ नियम कायदे हैं, यदि अधिक मात्रा में और गलत ड्रिंक के साथ दवा लेते हैं तो सेहत को गंभीर नुकसान पहुंच सकता है।

दवा खाने का सही तरीका
मतौर पर लोगों द्वारा यह टैबलेट पानी के साथ ही ली जाती है लेकिन पानी के बजाय गर्म दूध के साथ दवा लेना अच्छा माना जाता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक इससे किसी तरह का रिएक्शन नहीं होता। फिर भी हमें समझने की जरूरत है कि हर दवा का अपना अलग काम है, जिसका स्वास्थ्य पर अलग अलग प्रभाव देखने को मिलता है। इसलिए इसलिए जब आपको प्रिस्क्रिप्शन दिया जाए, तो अपने डॉक्टर से जरूर पूछें कि इसे कैसे लें और किसके साथ लेने से बचें।

शराब पीने के बाद क्या हम दवाई ले सकते हैं?
दरअसल, शराब में इथेनॉल पाया जाता है और पेरासिटामोल को इथेनॉल के साथ मिलाएंगे, तो मतली, उल्टी सिरदर्द, बेहोशी की समस्या हो सकती है। वहीं कुछ लोग रातभर हैवी ड्रिंक करने के बाद हैंगओवर से छुटकारा पाने के लिए पेरासिटामोल का सेवन करते हैं तो यह उनको गंभीर खतरे में डाल सकता है।
बता दें कि पेरासिटामोल और शराब दोनों मिलकर लिवर को विषैला बना सकते हैं। केवल पेरासिटामोल ही नहीं, किसी भी टैबलेट को शराब के साथ लेना अच्छा कॉम्बिनेशन नहीं है। वहीं इसके हाई डोज लेने से लीवर को खतरा हो सकता है।

अल्कोहल के साथ न करें पेरासिटामोल का सेवन:
स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक कुछ दवाएं खाली पेट लेते हैं तो कुछ को गुनगुने पानी या फिर दूध के साथ लेते हैं। लेकिन इनमें से कुछ ऐसी दवाइयाँ होती हैं जिन्हें अगर भूलवश दूध के साथ ले लिया जाए, तो पेट में जलन का कारण बन सकती हैं। वहीं पेरासिटामोल की बात करें तो जो लोग इसे अल्कोहल के साथ लेते हैं, या अल्कोहल पीने के बाद लेते हैं। उन्हें आगे चलकर नुकसान हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *