पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लोकतांत्रिक जनमोर्चा का आंदोलनरत् राज्य कर्मचारियों संयुक्त मोर्चा को समर्थन, संयोजक सुभाष सैनी ने कहा पेंशन मिलना हर राज्य कर्मचारियों का संवैधानिक अधिकार

रुड़की । लोकतांत्रिक जनमोर्चा संयोजक सुभाष सैनी ने पुरानी पेंशन बहाली के मुद्दे पर आंदोलनरत् राज्य कर्मचारियों के संयुक्त मोर्चा को अपना समर्थन देते हुए कहा कि पेंशन मिलना हर राज्य कर्मचारियों का संवैधानिक अधिकार है जिसकी पूर्ति हर सरकार को हर परिस्थिति में सुनिश्चित करनी चाहिए ।‌वर्षों से चल रही वैश्विक मंदी व वर्तमान कोरोना संकट में पेंशन समय की मांग है।‌ राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा का एक प्रतिनिधिमंडल अपनी मांगों के समर्थन के संबंध में लोकतांत्रिक जनमोर्चा संयोजक सुभाष सैनी से उनके आवास पर मिला ।‌उनके अनुरोध पर मोर्चा संयोजक सुभाष सैनी ने अपना समर्थन पत्र प्रधानमंत्री/ मुख्यमंत्री को संबोधित करते हुए प्रेषित किया ।‌ संयुक्त मोर्चा के जिला अध्यक्ष नवीन कुमार सैनी के नेतृत्व में पार्षद संजय कश्यप, पार्षद धीरज सिंह, पार्षद सचिन कश्यप ने भी अपने-अपने समर्थन पत्र प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को प्रेषित किए। गौरतलब है कि संयुक्त मोर्चा द्वारा कई माह से पुरानी पेंशन बहाली हेतु कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं‌।‌ जिसका व्यापक प्रभाव देखने को मिल रहा है।‌ इस अभियान को संदीप शर्मा, राजेश सैनी, महेश राजवान, विनोद यादव, दिनेश वर्मा, सुषमा थपलियाल, जयंती रावत, शिवानी प्रकाश, हरेंद्र सैनी, अक्षय कुमार, प्रमोद कुमार, अजय कुमार, सतीश सैनी, विवेक, नरेंद्र शर्मा, प्रवीण जटराना, मांगेराम मौर्य, इरशाद अली, आलोक पंवार, उत्तम शर्मा, संदीप कपिल, राजीव चौहान, डॉक्टर शैलेंद्र मैठानी, विजय सक्सेना, कुलदीप, धर्मेंद्र, विजय बड़ौनी शिक्षक संगठनों के पदाधिकारी गति प्रदान कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *