पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष के बेटे पूर्व भाजयुमो उपाध्यक्ष की हत्या, भाजपाइयों का थाना घेरकर हंगामा, सरकारी जमीन पर अतिक्रमण का कर रहे थे विरोध

कानपुर। पुखरायां कस्बे में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण करने का विरोध कर रहे भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा (भाजयुमो) के पूर्व जिला उपाध्यक्ष पर बस्ती के लोगों ने ईंट-पत्थरों से हमला कर दिया। वह घायल होकर वहीं गिर पड़े। अस्पताल पहुंचाने पर डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पूर्व जिला उपाध्यक्ष के पिता भी भाजपा नेता हैं और पूर्व जिलाध्यक्ष रह चुके हैं। घटना के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए पुलिस चौकी में हंगामा किया। हालांकि, पीडि़त परिवार की ओर से रात तक तहरीर न मिलने से मुकदमा दर्ज नहीं हो सका है। राजेंद्र नगर, पुखरायां कस्बा निवासी भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश तिवारी के पुत्र 30 वर्षीय अंबरेश तिवारी उर्फ मुनि भाजयुमो उपाध्यक्ष थे। शनिवार देर शाम अंबरेश अपने साथियों के साथ सघन क्षेत्र विकास समिति की ओर बाइक से जा रहे थे। इसी दौरान समिति की बिल्डिंग के पास सड़क किनारे बस्ती के लोग सरकारी जमीन पर अस्थायी निर्माण कर कब्जा कर रहे थे। इसका विरोध करने पर आक्रोशित महिलाओं व पुरुषों ने ईंट-पत्थर से उन पर हमला कर दिया। अंबरेश गंभीर घायल होकर जमीन पर गिर पड़े, जबकि उनके साथी मौके से भाग गए और घटना की सूचना स्वजन को दी। घटनास्थल पर पहुंचे भाई ने अंबरेश को जमीन पर पड़ा देखा तो आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पुखरायां में भर्ती कराया। इमरजेंसी में मौजूद चिकित्सक ने अंबरेश को मृत घोषित कर दिया। डाक्टर के मुताबिक, सिर में गंभीर चोट और अत्याधिक रक्तस्राव की वजह से मौत हुई है। घटना की जानकारी मिलते ही भाजपा कार्यकर्ता और समर्थक पुलिस चौकी पहुंच गए। काफी देर तक चौकी में हंगामा चलता रहा। सीओ प्रभात कुमार सिंह ने सभी को समझा बुझाकर शांत कराया। कोतवाली प्रभारी राजेश कुमार सिंह ने बताया, हमले में घायल पूर्व भाजयुमो उपाध्यक्ष की मौत हो गई है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *