केंद्रीय विद्यालय एक में निशुल्क वैक्सीनेसन कैंप का आयोजन

रुड़की। “दवाई भी और कड़ाई भी” यही मूलमंत्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिया गया है, जिससे हम कोरोना की जंग जीत सकते है । भारत में कोविड वैक्सीन के अभियान का तीसरा चरण शुरू हो चुका है। इसी कार्यक्रम के अंतर्गत आज केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-1 रूड़की में निःशुल्क कोविड वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि राकेश गिरि ने किया । इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए राकेश गिरि ने कहा कि कोरोना वायरस की वैक्सीन को सरकार द्वारा अभी कानूनी रूप से लगवाना अनिवार्य नहीं किया गया है। यह जनता की इच्छा पर आधारित है परन्तु कोरोना वायरस की महामारी से स्वयं को व अपने प्रियजनों को सुरक्षित करने के लिए कोरोना वैक्सीन लगवाना आवश्यक हो जाता है। इस कैंप के आयोजन के उद्देश्य के बारे में जानकारी देते हुए प्राचार्य वी के त्यागी ने कहा कि देश में वैक्सीन के प्रति जागरूकता को लेकर सकारात्मक विचारों को स्थान मिल रहा है। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्येश्य लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक करना तथा विद्यालय के शिक्षक एवं कर्मचारी तथा उनके परिवार ,आस पास के समाज के लोग तथा 18 वर्ष से ऊपर के विद्यार्थियों को आसानी से वैक्सीनेशन की सुविधा उपलब्ध कराना है ताकि कोरोना वायरस से लड़ने में उनको सक्षम बनाया जा सके | वैक्सीन बहुत शक्तिशाली होती है। यह बीमारी का इलाज नहीं करती बल्कि उनके प्रभाव को बढ़ने से रोकती है। इसी कारण कोरोना वायरस की इस भयावह स्थिति में कोरोना वैक्सीन लगवाना अनिवार्य हो गया है। यह कार्यक्रम वैक्सीनेशन नोडल अधिकारी रामकेश गुप्ता के निरीक्षण में सिविल अस्पताल रूड़की की स्टाफ नर्स श्रीमती सोनू शर्मा तथा श्रीमती शिवानी पाल के सहयोग से संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में विद्यालय के तरफ से उप प्राचार्या श्रीमती अंजू सिंह के साथ श्रीमती पूनम कुमारी, सुश्री गुलशन खान, कपिल देव, देवी सिंह, प्रवेश कुमार, एसएस रावत तथा सुशील कुमार का विशेष सहयोग रहा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.