गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने पर राज्य आंदोलनकारियों ने मिठाई बांटकर जताई खुशी, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का जताया आभार

रुड़की । अशोक नगर में आज राज्य आंदोलनकारियों तथा क्षेत्र वासियों ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत द्वारा गैर सेंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने पर हर्ष जताया तथा एक दूसरे को मिठाई खिला कर बधाई दी। चिन्हित राज्य आंदोलनकारी हरिद्वार के जिला अध्यक्ष राजेंद्र सिंह रावत ने गैरसैण मैं ग्रीष्मकालीन राजधानी को उत्तराखंड के लिए एक शुभ संकेत बताया। उन्होंने कहा देर से ही भले लेकिन कुछ अच्छी शुरुआत हुई है इसके दूरगामी एवं अच्छे परिणाम निकलेंगे तथा पलायन को रोकने में मील का पत्थर भी साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि अगर यह स्थाई राजधानी बनती और भी अच्छा था उन्होंने इस काम के लिए त्रिवेंद्र रावत को बधाई दी। महामंत्री सतीश नेगी ने कहा की 20 वर्षों से लंबित यह मांग मुख्यमंत्री द्वारा पूरी किए जाने पर पूरी जनता में हर्ष की लहर है यह राज्य आंदोलनकारियों के पूरे होते सपनों की तरफ एक सराहनीय कदम है हम उम्मीद करते हैं कि सरकार इस माध्यम से उत्तराखंड में विकास की गति को बल देगी। नरेंद्र गुसाईं शहर अध्यक्ष ने कहा की गैर सेंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने से उत्तराखंड की जनता की वर्षों से चली आ रही एक मांग कम से कम आंशिक रूप से पूरी तो हुई। उन्होंने सरकार से राज्य आंदोलनकारियों की अन्य समस्याओं पर भी यथाशीघ्र विचार करने के लिए सरकार से पहल करने की गुजारिश की इस अवसर पर समस्त क्षेत्रवासियों खुशी की लहर दौड़ गई तथा उन्होंने मिठाइयां बांट एक दूसरे को बधाई दी। इस अवसर पर राजेंद्र सिंह रावत, जिला अध्यक्ष सतीश नेगी, महामंत्री नरेंद्र गुसाईं, शहर अध्यक्ष कुंवर सिंह डंगवाल, प्रदीप बुढाकोटी, प्रेमचंद्र ध्यानी, हरीश कुमार, दीपक कुमार, गोविंद ठाकुर, राजीव तिवारी, जगदीश खडायत आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *