देश के निर्माण में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका, एसएमजेएन कॉलेज में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

हरिद्वार । एसएमजेएन कॉलेज में शुक्रवार को मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि उप जिला निर्वाचन अधिकारी प्यारे लाल शाह, प्राचार्य डा. सुनील कुमार बत्रा, मुख्य अनुशासन अधिकारी डा. सरस्वती पाठक, छात्रा कल्याण अध्ष्ठिाता डा. संजय माहेश्वरी, डा. जगदीश चन्द्र आर्य व विनय थपलियाल द्वारा लोकतंत्र के महापर्व चुनाव को सफल बनाने के लिए छात्र-छात्राओं को मतदान करने की शपथ दिलाई गई। प्यारे लाल शाह ने कहा कि भारत में शहरी क्षेत्र के बजाए ग्रामीण क्षेत्र से अधिक लोगों द्वारा मतदान का प्रयोग किया जाता है। उन्होंने छात्र-छात्राओं को मतदान हेतु प्रोत्साहित करते हुए कहा कि किसी भी परिस्थिति में निर्वाचन द्वारा ही प्रत्याशी चुना जाएगा और इस निर्वाचन का प्रभाव सभी पर पड़ेगा। इससे स्पष्ट होता है कि देश की दशा और दिशा तय करने और देश के निर्माण में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका है। डा. सुनील कुमार बत्रा ने कहा कि हम शिक्षक शिक्षा और छात्रों दोनों में प्रत्यक्ष संवाद रखते हैं तो हमारा उत्तरदायित्व होता है कि हम लोकतंत्र की मजबूती में अपना योगदान दें। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में निर्वाचक साक्षरता प्रकोष्ठ क्लब का गठन किया गया है। जिसका उद्देश्य घर-घर साक्षरता पहुंचाना व मतदाता को जागरुक बनाना है। डा. सरस्वती पाठक ने छात्र-छात्राओं से आह्वान किया कि डालने वोट बूथ पर जाएं, लोकतंत्र का पर्व मनाएं। कार्यक्रम का संचालन कर रहे डा. संजय कुमार माहेश्वरी ने छात्र-छात्राओं का आह्वान किया कि आप अपने मताधिकार का प्रयोग करके राज्य के विकास में भागीदार बनें एवं सच्चे नागरिक होने का कर्तव्य निभाएं एवं राष्ट्र को एक राष्ट्र निर्माण के मार्ग पर ले जाना सुनिश्चित करें। विनय थपलियाल ने कहा कि चुनाव लोकतंत्र का अहम हिस्सा होते हैं। कुशल शासन प्रणाली के रुप में लोकतंत्र स्थापित है एवं लोकतंत्र इस बात पर तय होता है कि हम अपने मत का प्रयोग उन जनप्रतिनिधियो के चयन में करे जो समाज की सामाजिक समस्याओं का समाधान एवं राष्ट्रविकास की सोच रखते हों। इस अवसर पर डा. अमिता श्रीवास्तव, डा. निविन्धया शर्मा, डा. लता शर्मा, डा. विनीता चौहान, अन्तिमा त्यागी, डा. मनोज कुमार सोही, डा. शिव कुमार चौहान, डा. आशा शर्मा, डा. मोना शर्मा, रिंकल गोयल, रिचा मिनोचा, विवेक मित्तल, डा. प्रज्ञा जोशी आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.