परोपकार के लिए होता है संत का जीवनः श्रीमंत रविंद्रपुरी, मनसा देवी ट्रस्ट ने सौंपा 11 लाख का चेक, एक हजार लोगों का भोजन रोजाना देगा ट्रस्ट, यात्रियों के लिए खोले दो धर्मशालाओं के द्वार

हरिद्वार । कोरोना वायरस को लेकर आपदा की घड़ी में मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आया है। ट्रस्ट ने प्रशासन की अपील पर रोजाना एक हजार लोगों को भोजन कराने का ऐलान किया है। साथ ही 11 लाख रुपये का चेक भी प्रशासन को दिया है। इसके अलावा लॉक डाउन के चलते हरिद्वार में फंसे यात्रियों के लिए दो धर्मशालाओं के द्वार भी खोल दिए गए हैं। धर्म-कर्म के लिए हरिद्वार आने वाले विभिन्न राज्यों के हजारों लोग इस समय हरिद्वार में फंसे हुए हैं। वहीं औद्योगिक क्षेत्र सिडकुल की फैक्ट्रियां बंद होने के कारण भी हजारों कामगारों के सामने भोजन पानी का संकट खड़ा हो गया है। मुसीबत की इस घड़ी में मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट समिति ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया है। ट्रस्ट के अध्यक्ष श्रीमहंत रविन्द्र पुरी ने रोजाना एक हजार लोगों को भोजन कराने की जिम्मेदारी ली है। हरिद्वार में फंसे यात्रियों के अलावा लॉकडाउन के बीच ड्यूटी देने वाले शासकीय कर्मचारियों को भी खाना उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह के माध्यम से 11 लाख का चेक भी जिलाधिकारी सी.रविशंकर को दिया है। इस रकम से गरीब व जरूरतमंद लोगों की मदद की जाएगी। श्रीमहंत रविन्द्र पुरी ने बताया कि शिव शक्ति भवन और मनसा देवी धर्मशाला में यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। पुलिस या प्रशासन की अनुमति लेकर बाहरी यात्रियों को इन दोनों भवनों में ठहराते हुए मुफ्त भोजन की व्यवस्था भी की जाएगी। उन्होंने हरिद्वार के अन्य संत महंतों व सामाजिक संस्थाओं से भी आगे आकर प्रशासन का सहयोग करने की अपील करते हुए कहा कि गुरु दधीचि ने राक्षस का वध करने के लिए अपने शरीर की अस्थियों को दान कर दिया था। संतों का जीवन परोपकार के लिए होता है, इसलिए कोरोना वायरस को लेकर फैली आपदा की घड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का पालन करते हुए संत महंत व हर नागरिक को अपनी क्षमता के अनुसार शासन प्रशासन को हर संभव मदद करनी चाहिए। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जो भी संस्था या संत-महंत जरूरतमन्दों की मदद करना चाहते हैं, वह प्रशासन को माध्यम बनाएं। स्वयं अन्न क्षेत्र लगाने से लॉक डाउन के बीच अव्यवस्था पैदा हो जाएगी। अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह को 11 लाख रुपये का चेक सौंपते हुए श्रीमहंत रविंद्रपुरी ने बताया कि इनके अलावा मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट प्रशासन के साथ हर संभव मदद के लिए तैयार खड़ा है। मनसा देवी मंदिर के ट्रस्टी प्रदीप शर्मा व अनिल शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस का प्रकोप दूर करने के लिए मां मनसा देवी मंदिर में रोजाना विशेष अनुष्ठान भी कराया जा रहा है। अपर मेला अधिकारी हरवीर सिंह ने मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट का आभार जताते हुए कहा कि हरिद्वार की अन्य धार्मिक संस्थाओं को भी असहाय व बेसहारा लोगों की मदद के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि ट्रस्ट की ओर से दो धर्मशालाओं के दरवाजे खोले गए हैं। जिनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की ओर से जारी गाइडलाइन का पालन कराते हुए लोगों को ठहरने व खानपान की व्यवस्था भी ट्रस्ट की ओर से निशुल्क कराई जाएगी। इस दौरान महंत दिगम्बर राजपुरी, दिगम्बर अमृत गिरी, संदीप अग्रवाल, दिगम्बर धनंजय गिरी आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *