एनआईएच शहर के विकास में देगा अपना सहयोग, सोलानीपुरम में मेयर ने संस्थान की ओर से लगाई गई परियोजना का फीता काट किया शुभारंभ

रुड़की । मेयर गौरव गोयल ने राष्ट्रीय जल विज्ञान संस्थान की ओर से सोलानीपुरम में पानी की सफाई के लिए प्राकृतिक उपचार तंत्र द्वारा घरेलू अपशिष्ट जल शोधन की प्रायोगिक व्यवस्था का फीता काटकर शुभारंभ किया।अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि इस तरह के शोध कार्य की समाज के लोगों को बहुत जरूरत है,इससे जीवन की मूलभूत समस्याओं में से एक पानी को साफ रखने में मदद मिलेगी।उन्होंने कहा कि उनका प्रयास नगर को बेहतर से बेहतर सुविधाएं प्रदान करने का है।एनआईएच के निदेशक डॉ.जसवीर त्यागी ने कहा कि सभी समस्याओं के निदान के लिए संस्थान हर संभव तकनीकी मदद करने को तैयार है।उन्होंने बताया कि कृष्णानगर में जलभराव की समस्या के समाधान के लिए प्लांट ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को उपलब्ध कराया गया है,जिसे नगर निगम को कार्यान्वित करना है।संस्थान के वैज्ञानिक डॉ.विकास गोयल ने भी योजना के संबंध में जानकारी दी।सोलानीपुरम तथा आदर्श नगर के बीच से गुजरने वाले 72 मीटर लंबे इस नाले पर एक वर्ष तक रिसर्च होगा।हर दिन में नाले से बहने वाले पानी की गुणवत्ता की निगरानी की जाएगी।इस अवसर पर पार्षद देवकी जोशी,रमेश जोशी,ओंकार सिंह,डॉ.राजेश गोयल,मेघा जोशी,रजनीश गोयल,विशन कुमार,राजेश अग्रवाल, प्रभाव गौतम,राम कुमार आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *