कोरोना की तीसरी लहर को लेकर बूथ स्तर तक तैनात होंगे स्वयंसेवक, भाजपा ने की बैठक सीएम धामी और प्रदेश अध्यक्ष कौशिक भी रहे शामिल

देहरादून । भाजपा प्रदेश कार्यालय में राष्ट्रीय स्वास्थ्य स्वयंसेवक अभियान कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर भाजपा बूथ स्तर तक स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की तैनाती करेगी। जिसके अंतर्गत जिले से मंडल, शक्ति केंद्र, ग्राम एवं वार्ड स्तर पर 4 सदस्यीय समितियों का गठन किया जायेगा। स्वास्थ्य समिति अपने स्तर से थर्मल, स्कैनर, ऑक्सीमीटर कोविड.19 के लिए होम टेस्ट किट जैसी महत्वपूर्ण चिकित्सीय आवश्यकताओं को जिला एवं मंडल स्तर पर संग्रहित कर इनका उपयोग स्वयंसेवकों द्वारा जरूरत पड़ने पर करेगी। भाजपा मानवता की सेवा के लिए निरंतर काम कर रही है। आज राष्ट्रीय स्वास्थ्य स्वयंसेवक अभियान शुरू किया गया है, यह दुनिया का सबसे बड़ा स्वास्थ्य कार्यकम बनेगा। बैठक में मुख्य रूप से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ,भाजपा के सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश, कैबिनेट मंत्री डॉ धन सिंह रावत,अजेय कुमार, कुलदीप कुमार सुरेश भट्ट आदि शामिल रहे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कोरोना संकट काल के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए सेवा के कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि भाजपा संगठन ने पीड़ितों की हर स्तर पर मदद की है और वार्ड स्तर तक कार्यकर्ता चौबीसों घंटे सक्रिय रहे हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनजर सरकार ने सभी तैयारियां पूर्ण कर ली है । मेडिकल सुविधाएं बढ़ाई गई है और सभी क्षेत्रों चिकित्सकों को पूरी तरह मुस्तैद रहने के लिए कहा गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बताएं कि स्वास्थ्य विभाग के नियमित रूप से बैठक हो रही है और कोरोना के संबंध में लगातार रिपोर्ट ली जा रही है। स्वास्थय मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने कहा है कि सभी अस्पतालों की मेडिकल सुविधाओं को चेक किया जा रहा है। अधिकतर ऑक्सीजन प्लांट चालू हो चुके हैं। कुछ अस्पतालों में और बेड बढ़ाई जा रहे हैं। चिकित्सकों से लेकर स्वास्थ्य कर्मियों तक को प्रोत्साहित किया जा रहा है। वैक्सीन की दोनों दूध लेने वाले पर्यटकों को ही उत्तराखंड में प्रवेश पर छूट दी गई है । बॉर्डर पर लगातार चेकिंग हो रही है। उन्होंने भाजपा संगठन और कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह भी अपने अपने क्षेत्र में की मेडिकल स्थिति की रिपोर्ट भेजें। जहां पर और अधिक मेडिकल फैसिलिटी की आवश्यकता है। वहां पर बढ़ाए जाने का प्रस्ताव लिखे इस ओर सरकार तुरंत कदम उठाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.