प्रधान रूपेश बने उत्तराखंड प्रधान संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष, पंचायत प्रतिनिधियों ने दी बधाई

बहादराबाद । दो राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित ग्राम पंचायत खेड़ली के प्रधान रूपेश चौहान को उत्तराखंड प्रधान संगठन में विशेष जिम्मेदारी दी गई है। उनकी नियुक्ति प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर की गई है। प्रधान रूपेश ने इसके लिए प्रधान संगठन का आभार व्यक्त किया है और कहा है कि वह पंचायत प्रतिनिधियों के हितों के लिए लगातार संघर्ष करेंगे। उनकी पहली कोशिश प्रधानों को सम्मान दिलाने के साथ ही उनकी सरकारी सुविधाएं बढ़वाए जाने की रहेगी। प्रधान रुपेश चौहान ने कहा है कि वह सभी प्रधानों को साथ लेकर चलेंगे और उनके हर संभव प्रयास होंगे कि सभी प्रधान एकजुट रहे। किसी भी प्रधान का उत्पीड़न नहीं होने दिया जाएगा। ग्राम पंचायत स्तर पर जो झूठी शिकायतों की जांच के बहाने प्रधानों को परेशान किया जाता है। ऐसे मामलों को गंभीरता से लेते हुए उसका जबरदस्त ढंग से विरोध किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि प्रदेश सरकार से ग्राम पंचायत के विकास के लिए अधिक से अधिक बजट की मांग की जाएगी। मौजूदा बजट राशि उन्होंने ना काफी बताई और कहा है कि जिस तरह से आम नागरिक की सुविधाएं बढ़ रही है। वैसे ही ग्राम पंचायतों को भी अधिक से अधिक से बजट दिया जाए ।ताकि ग्रामीणों को बेहतर सुविधाएं प्रदान की जा सके। उन्होंने कहा है कि अधिकारियों और कर्मचारियों से सामान्य से बना कर विकास कार्यो में तेजी लाई जाएगी। प्रधान संगठन राष्ट्रीय और सामाजिक कार्यों में विशेष भागीदारी निभाएगा। वहीं दूसरी ओर प्रधान संगठन के उपाध्यक्ष नियुक्त होने पर रूपेश चौहान का पंचायत प्रतिनिधियों ने स्वागत किया। ग्राम प्रधान प्रताप सिंह,ग्राम प्रधान प्रीतम रोड,क्षेत्र पंचायत सदस्य आकाश चौहान नीरज चौहान, ललित चौहान, शीतल चौहान, अभिषेक चौहान। अमित राज, पूर्व प्रधान अरविंद सैनी एडवोकेट शमीम अहमद, ठाकुर विजय पाल सिंह प्रधान मदन भूषण सैनी, प्रधान भूरा, प्रधान निसार ,पूर्व प्रधान राव शकील अहमद, सलीम अहमद डॉक्टर इरफान अली, गौतम चौहान, धुली राम राठौर आदि ने रूपेश चौहान को बधाई और शुभकामनाएं दी है। जैविक उत्पाद परिषद के उपाध्यक्ष राज्य मंत्री ठाकुर सुशील चौहान और विधायक आदेश चौहान ने भी रूपेश चौहान के प्रधान संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष बनने पर उन्हें शुभकामनाएं प्रेषित की हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.