प्रभारी जिलाधिकारी की अध्यक्षता में सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित, वर्ष में चार बार आयोजित की जाएंगी बैठक

हरिद्वार । प्रभारी जिलाधिकारी हरिद्वार विनीत कुमार तोमर की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गयी। यह बैठक वर्ष में चार बार अयोजित की जाती है। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार श्री सेंथिल अबुदई, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व श्री के.के. मिश्र, एसपी ट्रैफिक श्री आयुष अग्रवाल, एसपी सिटी श्रीमती कमलेश उपाध्याय, एसडीएम भगवानपुर श्री पाण्डेय, एआरटीओ प्रशासन तथा प्रवर्तन समिति के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस, एसडीएम तथा परिवहन विभाग की संयुक्त टीम द्वारा पुनः ब्लैक स्पॉट चिन्हित किये जाने को कहा। उन्होंने कहा कि ब्लैक स्पॉट की संख्या सही होने पर ही दुघर्टनाओं पर लगाम लगायी जा सकती है। सार्वजनिक सेवायान से दुर्घटना की स्थिति में उत्तराखण्ड दुर्घटना राहत निधि से वितरित मुआवजा धनराशि के प्रकरणों की भी समीक्षा श्री तोमर ने की। उन्होंने कहा कि इन मुआवजा राशि का वितरण निर्धारित समय समय में किया जाये इसके लिए एसडीएम, सम्बंधित क्षेत्र का थाना व परिहन विभाग सभी कार्रवाई समय से तालमेल बनाकर करना सुनिश्चि करें।  सड़क दुर्घटनाओं में संवेदनशीलता को अपनाते हुए सड़क निर्माण विभाग, पुलिस तथा यातायात विभाग अपने दायित्वों का तत्परता से अनुपाल करे। एनएच के अधिकारियों ने बताया कि पुराने रिफलेक्टिंग बोर्ड कोहरे में सही ढंग से कार्य करें इसके लिए पुराने बोर्ड को बदल कर नये बोर्ड लगाये जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। जनपद की सड़कों पर क्रैश बैरियर, सूचना संकेत बोर्ड, ट्रैफिक कॉमिंग के कार्यो की भी समीक्षा की। उन्होंने सड़क और यातायात के नियमों तथा दुर्घटना की स्थिति में पुलिस तथा प्रशासन की ओर से किये जाने वाले राहत कार्यो की सूचनाओं और जानकारियों का व्यापक प्रचार प्रसार किये जाने के निर्देश एआरटी व पुलिस को दिये। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *