त्रिवेंद्र सिंह रावत को हटाए जाने से बीजेपी सरकार की विफलता पूरी तरह उजागर हो गई, कांग्रेस महिला जिलाध्यक्ष रश्मि चौधरी बोलीं- सरकार नीतियों के चलते चार साल में प्रदेश में बेरोजगारी व पलायन बढ़ा

रुड़की । महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष रश्मि चौधरी ने कहा कि त्रिवेंद्र सिंह रावत को हटाए जाने से भाजपा सरकार की विफलता पूरी तरह उजागर हो गयी है। विफलताओं व नाकामियों के चलते ही त्रिवेंद्र सिंह रावत को पद से हटाकर तीरथ सिंह रावत को मुख्यमंत्री बनाया गया है। लेकिन केवल मुख्यमंत्री बदलने मात्र से जनता का कोई भला होने वाला नही है। भाजपा में चल रही अंतर्कलह व सरकार में भ्रष्टाचार के चलते प्रदेश विकास की दौड़ में पूरी तरह पिछड़ गया है। भाजपा सरकार नीतियों के चलते चार साल में प्रदेश में बेरोजगारी व पलायन बढ़ा है। महंगाई चरम पर है। पेट्रोल, डीजल, रसाोई गैस व अन्य जरूरी चीजों के दाम आसमान छू रहे हैं। महंगाई व बेरोजगारी बढ़ने से आम जनता परेशान है। लेकिन सरकार जनता की परेशानियां दूर करने में पूरी तरह विफल रही है। कुंभ के आयोजन में अव्यवस्थाएं सबके सामने हैं। चार साल से केंद्र सरकार के इशारे पर चल रही भाजपा सरकार में मुख्यमंत्री बदलने से किसी तरह का सकारात्मक बदलाव की उम्मीद बेमानी है। नए मुख्यमंत्री भी केंद्र के इशारे पर ही काम करेंगे। केंद्र की जनविरोधी नीतियों के चलते पूरे देश की जनता परेशान है। ऐसे में उत्तराखण्ड की जनता को कोई लाभ मिलने की उम्मीद नहीं की जा सकती है। बार बार मुख्यमंत्री बदलने से जनता के धन की बर्बादी भी होगी। मात्र आठ माह के लिए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत प्रदेश की विकट समस्याओं को क्या हल कर पाएंगे। बेरोजगारी बढ़ रही है। स्थानीय युवाओं को औद्योगिक क्षेत्रों में भी नौकरियां नहीं मिल पा रही है। रश्मि चौधरी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता भाजपा सरकार को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाने के लिए तैयार बैठी है। 2022 में भाजपा सरकार को जाना तय है और कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ उत्तराखण्ड में सरकार बनाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *