सिविल लाइंस पुलिस ने कार चोरी की घटना का किया खुलासा, तीन गिरफ्तार, फाइनेंस का लाभ लेने के लिए कार मालिक ने दो साथी के साथ दिया घटना को अंजाम

रुड़की । सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस ने कार चोरी की घटना का खुलासा करते हुए अभियुक्तो को गिरफ्तार कर कार बरामद कर ली। सिविल लाइन कोतवाली में पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह ने बताया कि वादी देवेंद्र कुमार पुत्र बालेश्वर निवासी भेंटरोड बंदरों वाला बाग सहारनपुर द्वारा पुलिस को तहरीर देकर अवगत कराया गया था कि 28 फरवरी को उसकी कार संख्या UK07KAK1666 रिट्ज चोरी हो गयी थी। जिसके आधारपर पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत कर चोरों की तलाश शुरू कर दी। घटना के खुलासे को लेकर एसएसपी द्वारा दिये गए निर्देश पर प्रभारी निरीक्षक के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। टीम को जांच में मालूम हुआ कि कार चोरी की घटना संदिग्ध लग रही है। वाहन स्वामी से पूछताछ में मालूम हुआ कि उसने कार फाइनेंस पर ली हुई थी। साथ ही जांच में यह भी खुलासा हुआ कि वादी का भाई शानू उर्फ छलिया श्रीराम फाईनेंस कंपनी में कार्यरत है ओर विशु वर्मा पुत्र अरुण वर्मा निवासी गाँधी कॉलोनी थाना मंडी सहारनपुर चोरी की घटना के दिन से लगातार सम्पर्क में था। इस पर प्रभारी निरीक्षक ने दरोगा विनोद रावत के नेतृत्व में पुलिस टीम को सहारनपुर रवाना किया। मुखबिर की सूचना पर मालूम हुआ कि माजरा से चोरी होने वाली गाड़ी को विशु वर्मा द्वारा तिवाया गांव थाना गागलहेड़ी जिला सहारनपुर में वीरेश के घर में छिपाकर रखा हुआ है। वीरेश जो विशु के साथ फाइनेंस कम्पनी में कार्य करता है, विशु वर्मा ने पूछताछ में बताया कि उसने अपने साथी के साथ इस कार को चोरी कर छिपाया था ताकि चोरी की रिपोर्ट लिखाकर फाइनेंस के मिलने वाले पैसे का फायदा लिया जा सके। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर कार को भी बरामद कर लिया। पुलिस टीम में कोतवाल अमरजीत सिंह, दरोगा विनोद रावत, कॉन्स्टेबल हुकुम सिंह,आशुतोष, हेमंत, अशोक शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *