पूर्व मंत्री राजेंद्र भंडारी के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने किया बद्रीनाथ धाम कूच, चारधाम यात्रा शुरू करने की मांग, कहा स्थानीय नागरिकों को उठाना पड़ रहा है भारी आर्थिक नुकसान

देहरादून । स्थानीय निवासियों को बदरीनाथ धाम के दर्शनों की अनुमति दिए जाने और यात्रा शुरू करने की मांग को लेकर पूर्व मंत्री राजेंद्र भंडारी के नेतृत्व में बदरीनाथ धाम कूच कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने पांडुकेश्वर में रोक लिया। इस दौरान बेरिकैडिंग के पास जमकर नारेबाजी हुई। पांडुकेश्वर में हाईवे पर पूरी तरह से बैरिकेटिंग की गई है। करीब 200 पुलिस जवान यहां तैनात किए गए हैं। दरअसल, पूर्व मंत्री राजेंद्र भंडारी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्त्ता बदरीनाथ जा रहे थे। पूर्व मंत्री राजेंद्र भंडारी ने कहा कि बदरीनाथ धाम जाने की अनुमति पूर्व में ही जिला प्रशासन से ली गई थी, लेकिन पांडुकेश्वर से आगे जाने नहीं दिया जा रहा है। संपूर्ण देश में तीर्थाटन, पर्यटन आवाजाही के लिए खोल दिए गए हैं। पर्यटक हेमकुंड साहिब जा रहे हैं, लेकिन चारधाम यात्रा अभी भी बंद है। इससे स्थानीय नागरिकों को भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। राज्य सरकार का जनता से अब कोई लेना-देना नहीं रह गया है। सरकार अपने में ही खोई हुई है। जनता बिजली, पानी सहित विभिन्न करों के बोझ तले दब रही है। बदरीनाथ की यात्रा संचालित नहीं है। फिर से लोगों को बिजली और पानी के बिल भरने पड़ रहे हैं। यात्रा पड़ाव से लेकर धाम तक लोगों का पूछने वाला कोई नहीं है। बदरीनाथ धाम में भी आज स्थानीय लोग बदरीनाथ के दर्शनों और यात्रा संचालन की मांग पर धरना-प्रदर्शन करेंगे। पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने बताया कि बदरीनाथ जाने के लिए एसडीएम जोशीमठ से अनुमति पत्र की व्यवस्था है। अनुमति आदेश के तहत ही संबंधित व्यक्ति को बदरीनाथ जाने दिया जाएगा। अनुमति पत्र चेक करने के लिए पांडुकेश्वर, लामबगड़ , हनुमानचट्टी में चेक पोस्ट पर पहले से ही बेरीकेड्स लगाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.