विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने ऋषिकेश में किया शिविर लाइन का निरीक्षण, कहा कार्य में गुणवत्ता एवं पारदर्शिता को ध्यान में रखा जाए

ऋषिकेश । ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत शहर में उत्तराखंड पेयजल निगम द्वारा नमामि गंगे परियोजना से बिछाई जा रही शिविर लाइन को लेकर आज उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने पेयजल निगम, लोक निर्माण विभाग एवं राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों के साथ पुरानी चुंगी से कोयल घाटी होते हुए एम्स रोड़ तक का औचक निरिक्षण किया। इस दौरान श्री अग्रवाल ने शहर में शिविर लाइन के कारण टूटी हुई सड़कें एवं उससे लोगों की आवाजाही में होने वाली दिक्कतों को लेते हुए अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी। ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत उत्तराखंड पेयजल निगम द्वारा सीवरेज बिछाए जाने के कार्य पर असंतोष व्यक्त करते हुए उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष एवं क्षेत्रीय विधायक प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि शिविर लाइन का कार्य तय समय सीमा के अंतर्गत पूर्ण नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सीवरेज लाइन बिछाए जाने के कारण शहर भर की सड़कें टूटी हुई है जिससे स्थानीय लोगों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अग्रवाल ने कहा है कि स्थानीय लोगों की पानी की लाइने टूटी हुई है जिससे स्थानीय लोगों को परेशानी हो रही है।उन्होंने कहा है कि शिविर लाइन के कार्य में गुणवत्ता एवं पारदर्शिता को ध्यान में रखा जाए।श्री अग्रवाल ने विभाग के अधिकारियों से नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि शिविर व्यवस्था ठीक न होने के कारण सड़कों में लंबे-लंबे जाम लग रहे हैं जिससे जनता को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है l विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि 2019 मार्च में शिविर लाइन बिछाने का कार्य प्रारंभ हुआ था आज 11 महीने बाद भी कार्य समाप्त नहीं हुआ। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा पेयजल निगम एवं राष्ट्रीय राजमार्ग व लोक निर्माण विभाग के बीच सामंजस्य की कमी होने के कारण शिविर लाइन बिछाने का कार्य प्रभावित हो रहा है जिससे कि क्षेत्र की जनता को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहा कि यह समस्या सीधे जनता से जुड़ा हुआ विषय है जिस पर कि कोई भी रियायत नहीं बरती जाएगी। विधानसभा अध्यक्ष ने पेयजल निगम एवं राष्ट्रीय राजमार्ग व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को शिविर लाइन बिछाने एवं सड़क पेंटिंग का कार्य 7 दिन के अंतर्गत शुरू करवाने के लिए निर्देशित किया। इस अवसर पर राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों ने विधानसभा अध्यक्ष से पुरानी चुंगी से कोयल घाटी सड़क निर्माण के लिए 1 हफ्ते का समय माँगा। इसी प्रकार लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों द्वारा कोयल घाटी से एम्स रोड का निर्माण 28 फरवरी से शुरू करने की बात कही।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि चारधाम एवं कावड़ यात्रा शुरू होने से पहले पहले सड़क निर्माण कार्य गुणवत्ता के आधार पर पूर्ण हो जाना चाहिए। विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों को उनके द्वारा दुबारा निरीक्षण करने की बात कही साथ ही श्री अग्रवाल ने कहा कि यदि कार्य समय सीमा पर पूर्ण नहीं होता है तो अधिकारियों पर कार्यवाही भी की जा सकती है। बैठक के दौरान पेयजल निगम के प्रबंधक निदेशक संदीप कश्यप, प्रोजेक्ट अभियंता एके चतुर्वेदी, प्रोजेक्ट अभियंता आरके सिंह एवं राष्ट्रीय राजमार्ग के सहायक अभियंता प्रवीण सक्सेना, अवर सहायक अभियंता एपी सिंह, लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता विपुल सैनी, सहायक अभियंता आर सी कैलखुरा, अवर सहायक अभियंता उपेन्द्र गोयल, जीडीसीएल कम्पनी के प्रोजेक्ट मैनेजर आदेश कुमार उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *