कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन, कहा महंगाई रोकने व महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम सिद्ध हुई भाजपा सरकार

हरिद्वार । कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं ने शहर महासचिव दीपक टंडन के नेतृत्व में चंद्राचार्य चैक पर एकत्र होकर केंद्र सरकार पर महंगाई नियंत्रण व महिलाओं को सुरक्षा देने में नाकाम रहने का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए सांसद प्रतिनिधि अरविन्द शर्मा व शहर महासचिव दीपक टंडन ने कहा कि तमाम लोक लुभावन वादे कर सत्ता में आयी केंद्र सरकार महंगाई रोकने व महिलाओं को सुरक्षा देने में पूरी तरह नाकाम सिद्ध हुई है। रसोई गैस, पेट्रोल, डीजल व खाद्य पदार्थो के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। बढ़ती महंगाई के कारण लोगों का जीवन दूभर हो गया है। उन्होंने कहा कि सत्ता में आयी भाजपा सरकार महंगाई को किसी भी रूप में नियंत्रित नहीं कर पा रही है। केंद्र सरकार को आमजन से कोई सरोकार नहीं रह गया है। केवल उद्योगपतियों व पूंजीपतियों को लाभ देने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गैस के बढ़े दामों को तुरंत वापस लिया जाए। वरना चरणबद्ध तरीके से केंद्र की नीतियों के खिलाफ आंदोलन चलाया जाएगा। जितेंद्र सिंह व सुमित भाटिया ने कहा कि रसोई गैस महंगी होने के कारण आम जनमानस अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहा है। गृहणियों रसोई चलाने में दिक्कतें झेल रही हैं। प्याज से लेकर सभी सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार महंगाई पर किसी भी प्रकार की रोक नहीं लगा पा रही है। देश भर में महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ रहे हैं। महिलाओं को सुरक्षा देने में केंद्र सरकार पूरी तरह विफल हो चुकी है। देश में महिलाएं असुरक्षा की भावना महसूस कर रही हैं। नितिन तेश्वर व सुनील कड़च्छ ने कहा कि खाद्य पदार्थो के दामों में बेतहाशा वृद्धि के कारण आम नागरिक का जीवन कठिनाईयों के दौर से गुजर रहा है। गैस सब्सिडी भी लोगों को सही नहीं मिल पाती है। रसोई गैस के बढ़ाए दामों को वापस लिया जाए। पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने के कारण अन्य खाद्य पदार्थो के दाम भी लोगों की पहुंच से दूर हो रहे हैं। श्रमिक वर्ग परेशान है। लेकिन केंद्र सरकार महंगाई पर किसी भी प्रकार का नियंत्रण नहीं कर पा रही है। विशाल राठौर व नितिन कौशिक ने कहा कि आर्थिक मंदी से देश की जनता जूझ रही है। नोटबंदी और जीएसटी जैसे निर्णय पूरी तरह से विफल रहे हैं। व्यापारी अपने रोजगार को लेकर चिन्तित है। महंगाई का बढ़ना केंद्र की विफलताओं को दर्शा रहा है। दीपाली त्यागी व नीतू बिष्ट ने कहा कि केंद्र सरकार महिलाओं को सुरक्षा देने में पूरी तरह नाकाम रही है। महिलाओं के साथ रेप व हत्या जैसी वारदातें तेजी से बढ़ी हैं। पूरे देश में महिलाएं अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रही हैं। महिलाओं को सुरक्षा देने का वादा कर सत्ता में आयी मोदी सरकार अपना वादा पूरा करने में विफल साबित हुई है। प्रदर्शन करने वालों में आर्यन राठौर, अमन गौड़, चंद्रशेखर आजाद, अमनजीत सिंह, कार्तिक शर्मा, पवन, मनोज जाटव, प्रेम शर्मा, गगन कुकरेजा, मन्नु विशाल, हन्नी अग्रवाल, नीलम शर्मा, शुभम विश्नोई आदि कार्यकर्ता शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *