देशभर में किसान उत्पीड़न तथा किसान की आत्महत्या की घटनाएं बढ़ रही, भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीय अध्यक्ष बोले, किसान हित को लेकर कोई भी सरकार गम्भीर नहीं

हरिद्वार । भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी चौधरी ऋषिपाल सिंह अंबावत में कहा कि किसान को आज तक सभी सरकारों द्वारा छला गया है।किसान हित को लेकर कोई भी सरकार गम्भीर नहीं रही। देशभर में किसान उत्पीड़न तथा किसान की आत्महत्या की घटनाएं बढ़ रही हैं।हरिद्वार प्रेस क्लब स्थित पत्रकार वार्ता में उन्होंने हो रहे किसान उत्पीड़न को लेकर केंद्र व प्रदेश सरकार को जमकर लताडा।अंबावत ने कहा कि आज किसानों के हितों की रक्षा को लेकर भारतीय किसान यूनियन संघर्ष कर रही है।किसानों को उचित समय पर खेती के कार्य हेतु बीज,खाद एवं अन्य कृषि उपकरण नहीं मिल रहे हैं। किसानों को मुआवजा राशि में कोई सुविधा नहीं दी जा रही है।उन्होंनेन देश की वर्तमान सरकार पर किसानों से विश्वासघात करने का आरोप लगाया और कहा आज किसान की दुर्दशा की जिम्मेदार केवल यह सरकारें हैं,जो केवल जुमले बाजी करके सत्ता का सुख रही है।देश का युवा बेरोजगार घूम रहा है और रोजगार तथा उद्योग पूरी तरह से ढप हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि अब देश का किसान अपने हितों की रक्षा को लेकर खुद सड़कों पर उतर कर संघर्ष करेगा,वहीं दूसरी ओर राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी अंबावत में डाम कोठी स्थित अतिथि घर में पदाधिकारियों की बैठक ली तथा यूनियन की भावी रुपरेखा को लेकर विचार विमर्श किया।इस अवसर पर यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव राव इरशाद खां,महिला नेत्री व समाज सेविका श्रीमती रश्मि चौधरी,प्रदेश अध्यक्ष विकास सिंह सैनी,पवन तोमर,खालिद पुंडीर,जमील अहमद,कोमल कल्याणी, कविता रावत,नीलम चौधरी, आरके त्यागी,मीरा धीमान व राधिका आदि प्रमुख रुप से मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *