विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ चौहान ने दिया इस्तीफा, निर्दलीय लड़ सकते हैं चुनाव, अल्मोड़ा में भाजपा कार्यकर्ताओं ने की बगावत

देहरादून । उत्तराखंड में टिकट बंटवारे के बाद भाजपा व कांग्रेस में बगावत रुकने का नाम नहीं ले रही। एक तरफ रामनगर सहित कई जगहों पर कांग्रेस में बगावत हो रही तो वहीं अल्मोड़ा विधानसभा में भाजपा कार्यकर्ताओं ने बगावत कर दी है। विधानसभा उपाध्यक्ष व विधायक रघुनाथ चौहान का टिकट कटने से उनके समर्थक नाराज हैं। उन्होंने सीएम को इस्तीफा भेज दिया है। इसके साथ ही निर्दलीय चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं। मंगलवार को पांडेखोला में समर्थकों के साथ बैैठक के बाद पत्रकार वार्ता में विधायक रघुनाथ सिंह चौहान ने कहा कि पार्टी से बगावत करने वालों को टिकट देने से भाजपा कार्यकर्ताओं में रोष है। उन्होंने कहा कि पहाड़ विरोधी प्रदेश अध्यक्ष के निर्णय से कार्यकर्ता आहत है। उन्होंने कहा कि पांच साल के कार्यकाल में उन्होंने अल्मोड़ा विधानसभा में विकास के कई कार्य किए। इसलिए लोगों का प्यार आज भी मिल रहा है। इसलिए मैंने विधानसभा उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा मुख्यमंत्री को भेज दिया है। उन्होंने कहा कि अभी मैं चुनाव लड़ूंगा या डीसीबी के अध्यक्ष ललित लटवाल चुनाव लड़ेंगे इस पर निर्णय होना है। लेकिन कार्यकर्ताओं के भावनाओं का सम्मान करते हुए चुनाव लड़ेंगे। इधर डीसीबी के अध्यक्ष ललित लटवाल ने कहा कि अभी उनके पास पार्टी का किसी प्रकार का पद नहीं है। विधानसभा चुनाव लड़ने पर सहमति बन चुकी है। कार्यकर्ताओं के साथ एक दो बैठकें और होनी है। कल तक प्रत्याशी के नाम की भी घोषणा हो जाएगी। लगातार पार्टी से कार्यकर्ता इस्तीफा दे रहे हैं। बैठक में हरीश कनवाल, सूरज सिराड़ी, अजित कार्की, आनंद कनवाल, रक्षित कार्की, भुवन चन्द्र पांडे, विनीत बिष्ट, गणेश चम्याल, प्रेम लटवाल, हिमांशु बनौला, राजेन्द्र बिष्ट, मोहन चौहान, नवीन बिष्ट, अर्जुन बिष्ट, राहुल बोहरा, किशन बिष्ट, जगदीश वर्मा, संतोष गंगोला, रोहित साह, शकील अहमद, रवि चंदोला, मदन बिष्ट, चमन मेहता सहित कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *