मानकपुर आदमपुर में शहीद उमराव सिंह, शहीद फतेह सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की गई, वक्ताओं ने कहा नहीं भुलाया जा सकता पिता-पुत्र का सर्वोच्च बलिदान

भगवानपुर । आज गांव मानकपुर आदमपुर में 1857 क्रांति के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पिता पुत्र को श्रंद्धाजलि दी गई। गांव मानकपुर आदमपुर शहीद उमराव सिंह और उनके पिता शहीद फतेह सिंह को 27 मई 1857को ब्रिटिश शासन द्वारा फांसी दी गई थी। कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे जिला सहकारी बैंक हरिद्वार के अध्यक्ष प्रदीप चौधरी ने शहीदों की प्रतिमाओं पर पुष्प अर्पित किए। कहा कि ये शहीद उमराव सिंह और उनके पिता ने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया है जिसे कभी भुलाया नही जा सकता। उन्होंने यह भी आश्वाशन दिया कि शहीदों के स्मारक में जो भी होगा वो सहयोग सरकार से कराया जायेगा। श्रंद्धाजलि सभा मे अध्यक्षता बीरबल सिंह सरपंच ने की। एडवोकेट अनुभव ने कहा कि स्मारक में जो निशंक द्वारा 10 लाख की धनराशि दी गई थी। उस से निर्माण कार्य चल रहा है कार्यक्रम का संचालन राजू आर्य ने किया और हवन पूजन रोहताश आर्य ने किया। इस मौके पर राहुल कुमार , मोनू, कुलवीर चैयरमैन, शेषराज सिंह, मकर सिंह, आतिश, मोहित,राजू प्रधान ,प्रवीन, प्रवेश कुमार,सचिन कुमार, अमन कुमार, हिमांशु सूरज शर्मा, आदि रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *