नवाचारी शिक्षा से बच्चों के अंदर नई प्रतिभा विकसित होती है, राष्ट्रीय शैक्षिक नवाचार सम्मेलन में सम्मानित किए गए शिक्षक

रुड़की । मंथन एक नूतन प्रयास एवं संतोष चैरिटेबल ट्रस्ट (रजि0) के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित राष्ट्रीय शैक्षिक नवाचार सम्मेलन “नवोन्मेष”एवम शिक्षक सम्मान समारोह 2020 शुक्रताल मुज्जफरनगर में सम्पन्न हुआ। जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में मदरहुड यूनिवर्सिटी के कुलपति एवम विशिष्ट अतिथि के रूप में रुड़की मेयर गौरव गोयल एवं जिला विद्यालय निरीक्षक सहारनपुर एवं खंड शिक्षा अधिकारी नागल मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन संस्थापक सदस्य संजय वत्स ने किया।कार्यक्रम में देश के अनेक राज्यों से आये शिक्षकों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में देश के विभिन्न प्रदेशों से आये शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि नवाचारी शिक्षा से बच्चों के अंदर नई प्रतिभा विकसित होती है विशिष्ट अतिथि रुड़की मेयर गौरव गोयल ने कहा कि वर्तमान समय मे शिक्षक नवाचार से शिक्षा में नित नए प्रयोग कर अनेक नवाचारी गतिविधियों के साथ शिक्षण कार्य कर रहे है जिससे बच्चों में नई ऊर्जा का संचार होता है । जिला विद्यालय निरीक्षक सहारनपुर ने नवाचारी शिक्षकों को सम्मानित करते हुए उन्हें भविष्य में भी अपने शिक्षण कार्य मे नवाचारी गतिविधियों को सम्मिलित करने के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम संयोजक डॉ रणवीर सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत कर उन्हें कार्यक्रम में उपस्थित होने पर आभार प्रकट करते हुए कहा कि “मंथन एक नूतन प्रयास” के बैनर तले देश मे नित नए नवाचारी प्रयोग हो रहे है जिससे शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार हो रहा है। कार्यक्रम में सम्मानित होने वाले शिक्षकों में रुड़की से राजीव कुमार शर्मा, दीपा कौशिक,जितेंद्र सिंह,संदीप शर्मा,अनुभव गुप्ता,विनीत स्टेनले, संजय वत्स, मेरठ से प्रदीप गहलोत,ओर हरियाणा से मनोज मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *