मंगलोर में ईंट भट्ठा स्वामी की गोली मारकर हत्या, लीज पर ली गई भट्ठे की जमीन को वापस लेने के मामले को लेकर चल रहा था विवाद

रुड़की / मंगलौर । लीज पर ली गई भट्ठे की जमीन को वापस लेने के मामले को लेकर चल रहे विवाद में मंगलवार को ईंट भट्ठा स्वामी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। गोली की आवाज सुनते ही वहां पर रह रहे मजदूर परिवारों ने शोर मचाया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। कोतवाली क्षेत्र के गांव कुमराड़ा में मुजफ्फरनगर निवासी अजय मलिक (47) पुत्र तीरथ सिंह मलिक ने निकटवर्ती गांव माजरा निवासी ग्रामीण से 16 वर्षों के लिए जमीन लीज पर ली थी। इस जमीन पर वह ईंट भट्ठा संचालित कर रहा था। हर वर्ष भट्ठा स्वामी जमीन मालिक को 80 हजार ईंटें उपलब्ध कराता था, लेकिन पिछले कुछ दिनों से जमीन मालिक अजय मलिक से जमीन वापस मांग रहा था। लेकिन उनका यह कहना था कि जब लीज का समय पूरा हो जाएगा तो वह जमीन को स्वयं ही खाली कर उन्हें सौंप देंगे। इसको लेकर लगातार विवाद बना हुआ था। पिछले कई दिनों से दोनों पक्षों में जमीन को खाली करने को लेकर विवाद चल रहा था। बताया गया कि मंगलवार को भट्ठा स्वामी अजय मलिक कार से भट्ठे पर पहुंचे तथा वहां पर वह अपने कार्यालय में बैठकर हिसाब किताब देखने लगे। इसी दौरान दो युवक वहां पर आए तथा उन्होंने बिना कोई बात किए गोली चला दी। प्राथमिक जांच में पता चला कि दो गोली अजय मलिक को लगी है। एक गोली सिर और दूसरी छाती में लगी है। तीसरी गोली के निशान भी मिले हैं। सूचना पर सीओ रुड़की बहादुर सिंह चौहान, इंस्पेक्टर यशपाल सिंह बिष्ट पीएसी व पुलिस बल मौके पर पहुंचे। पुलिस ने आसपास काम करने वाले मजदूरों से घटना के संबंध में जानकारी जुटाई। पुलिस को एक लाइसेंसी पिस्टल भी मौके से बरामद हुआ है। घटना के संबंध में अभी तक कोई तहरीर नहीं आई है। सीओ बहादुर सिंह चौहान का कहना है कि आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। अभी तक पुलिस को इस संबंध में कोई तहरीर नहीं मिली है। एहतियात के तौर पर ईंट भट्ठे पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। ताकि किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न घट सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *